Top

IIT कानपुर: विश्वनाथन आनंद को डॉक्टर ऑफ साइंस की मानद उपाधि से नवाजा

By

Published on 28 Jun 2016 2:25 PM GMT

IIT कानपुर: विश्वनाथन आनंद को डॉक्टर ऑफ साइंस की मानद उपाधि से नवाजा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर : आईआईटी कानपुर के 49वें दीक्षांत समारोह के दूसरे दिन शतरंज के चैम्पियन ग्रांडमास्टर विश्वनाथन आनंद को डॉक्टर ऑफ साइंस की मानद उपाधि से नवाजा गया। यह उपाधि उन्हें आईआईटी सीनेट की ओर से प्रदान की गई।

छात्रों को दिए सफलता के मंत्र

-विश्वनाथन आनंद ने 1988 में ग्रांड मास्टर का खिताब जीता था, इसके बाद वह 5 बार विश्व चैंपियन बने।

-उन्होंने स्टूडेंट्स को सम्बोधित करते हुए उन्हे सफलता के मंत्र दिए।

-उन्होंने उम्मीद जताई कि रियो ओलम्पिक में भारतीय दल पिछले ओलम्पिक से बेहतर प्रदर्शन करेगा।

-इस बार हमें ज्यादा पदक मिलेंगे, लेकिन ओलम्पिक में पदक जीतने के लिए व्यवस्थाओं में सुधार जरुरी है।

अपने संबोधन में आनंद ने कहा

विश्वनाथन आनंद ने कहा, 'आज फिर मैं ड्रेस पहनकर आया हूं लेकिन मुझे कोई घबराहट नहीं हुई। बल्कि मुझे राष्ट्रपति भवन की याद ताजा हो गई। 'उन्होंने आईआईटी प्रशासन को धन्यवाद दिया कि जिन्होंने डाक्टरेट उपाधि के लिये उन्हें चुना। समारोह के बाद आनंद के साथ सेल्फी लेने के लिए स्टूडेट्स में होड़ लग गई, उन्होंने मुस्कुराते हुए सबके साथ फोटो खिंचवाई।

Next Story