×

Lucknow News: मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा बोले, यदि सरकार से चलते हैं 100 रुपये, तो लाभार्थी के खाते में पहुंचते हैं पूरे 100 रुपये

Lucknow News: उन्होंने कहा कि इस वर्ष को आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है, जिसका शुभारंभ प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने पिछले साल मार्च में किया गया था, जो मार्च, 2023 तक चलेगा।

Shreedhar Agnihotri
Updated on: 2022-04-02T17:12:38+05:30
Chief Secretary Durga Shankar Mishra
X

Chief Secretary Durga Shankar Mishra

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow News: उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र (Chief Secretary Durga Shankar Mishra) द्वारा आज सप्रू मार्ग, हजरतगंज, लखनऊ स्थित एच.डी.एफ.सी. बैंक (HDFC Bank) की नई शाखा का फीता काटकर शुभारंभ किया।

इस अवसर पर मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा कि उन्हें बहुत खुशी हो रही है कि नवरात्रि के शुभ अवसर पर प्रदेश में एच.डी.एफ.सी. बैंक की 634वीं शाखा का शुभारंभ करने का अवसर प्राप्त हुआ है।

मनाया जा रहा है आज़ादी का अमृत महोत्सव

उन्होंने कहा कि इस वर्ष को आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है, जिसका शुभारंभ प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने पिछले साल मार्च में किया गया था, जो मार्च, 2023 तक चलेगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान वर्ष में एच.डी.एफ.सी. बैंक द्वारा प्रदेश में 755 शाखा खोलने का लक्ष्य रखा गया है, जो सराहनीय कदम है। उन्होंने कहा कि किसी भी देश एवं प्रदेश की अर्थव्यवस्था को मजबूत एवं सुदृढ़ बनाने में बैंकों का महत्वपूर्ण स्थान होता है।



मुख्य सचिव ने कहा कि किसी भी बैंक की नई शाखा से नये व्यवसाय के रास्ते खुलते हैं एवं रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं। देश में करोड़ों लोग ऐसे थे जिनके पास बैंक खाते नहीं थे, प्रधानमंत्री जन धन योजना के माध्यम से करोड़ों लोगों के बैंक खाते खोले गये हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को डीबीटी के माध्यम से सीधे उनके खाते में धनराशि भेजी जा रही है, इसमें किसी भी प्रकार के बिचौलिये का कोई कार्य नहीं है, इस तरह से लाभार्थीपरक् योजनाओं में व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त करने में सहायता मिली है।

यदि सरकार से चलते हैं 100 रुपये, तो लाभार्थी के खाते में पहुंचते हैं पूरे 100 रुपये

श्री मिश्र ने कहा कि वर्तमान समय में यदि सरकार से 100 रुपये चलते हैं तो लाभार्थी के खाते में पूरे 100 रुपये पहुंचते हैं न कि 99 रुपये। उन्होंने कहा कि बैंकिग व्यवस्था इतनी अपग्रेड हो चुकी है कि डिजिटल माध्यम से आप पैसा कहीं भी कभी भी हस्तांतरित कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि नेशनल मोबिलिटी कार्ड आज दुनिया में बहुत ही तेजी के साथ बढ़ रहा है। एच.डी.एफ.सी. बैंक का क्रेडिट एवं डिपॉजिट रेशियो 78 प्रतिशत अर्थात् लगभग 60,000 हजार करोड़ रुपये है जो कि एक अच्छी प्रगति है।

इस मौके पर उन्होंने प्रदेश के सभी बैंकर्स से आह्वान करते हुए कहा कि बैंकिंग एक सेवा है। प्रत्येक बैंकर्स को अपने उपभोक्ता से अच्छे से व्यवहार करने चाहिए। उनकी समस्या का समय से निस्तारण होना चाहिए। उन्होंने कहा कि बैंकिंग व्यवस्था में यह महत्वपूर्ण है कि कैसे आप अपने उपभोक्ता को अटेन्ड करते हैं, क्योंकि कभी वह टेंशन में रहता और आपका अटेंशन चाहता है। उन्होंने कहा कि यदि आप उपभोक्ता की मनोस्थिति को समझकर उसकी समस्याओं का निराकरण करेंगे, तो सदैव उन्नति के पथ पर अग्रसर रहेंगे।

ब्रान्च बैंकिंग हेड, उ0प्र0 एवं उत्तराखण्ड अखिलेश कुमार रॉय द्वारा कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया के बाद एच.डी.एफ.सी. बैंक निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा बैंक है। प्रदेश में एच.डी.एफ.सी. बैंक की 63 प्रतिशत शाखाएं ग्रामीण एवं अर्ध शहरी क्षेत्रों में संचालित हैं। एच.डी.एफ.सी. बैंक द्वारा वित्तीय वर्ष 2021-22 में 740 शाखाएं भारत में खोली गई हैं। इस समय बैंक की 634 शाखाएं एवं 1200 एटीएम प्रदेश में संचालित हैं। वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्रदेश में एच.डी.एफ.सी. बैंक की 76 नई शाखाएं खोले जाने के साथ-साथ 100 एटीएम स्थापित किये गये हैं और वित्तीय वर्ष 2022-23 में प्रदेश में 121 नई शाखाएं खोलने का लक्ष्य रखा गया है।

Rakesh Mishra

Rakesh Mishra

Next Story