Top

चीफ सेक्रेटरी ने ली सभी डीएम की क्लास, कहा-खराब नहीं करना चाहता कैरियर

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 14 July 2016 5:41 AM GMT

चीफ सेक्रेटरी ने ली सभी डीएम की क्लास, कहा-खराब नहीं करना चाहता कैरियर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः चीफ सेक्रेटरी दीपक सिंघल ने बुधवार को जिलोंं में तैनात प्रशासनिक अफसरों की क्लास लगाई और उनसे जिलोंं में चल रही योजनाओं की मौजूद स्थिति की जानकारी मांगी। इसमें ढिलाई पर कई जिलों के डीएम को फटकार भी लगाई। योजना भवन में आयोजित बैठक में सिंघल ने अफसरों को चेताते हुए कहा कि वह किसी का कैैरियर खराब नहीं करना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें... 18 IAS सुपरसीड, ‘अमर बेल’ के सहारे चीफ सेक्रेटरी बने दीपक

बैठक में मौजूद अधिकारियोंं के मुताबिक सिंघल ने कई डीएम से जिलोंं में योजनाओंं का फीडबैक लिया। उन्‍होंने पूूछा कि किसे उसके जिले में योजनाओंं की मौजूदा स्थिति की जानकारी है।

गोरखपुर डीएम को फटकार, सीडीओ झांंसी से कहा कि करेंं निरिक्षण

बैठक में चीफ सेक्रेटरी ने डीम गोरखपुर को फटकारते हुए वहांं रेडियो टैक्सी के संंचालन के बारे में पूछा और अब तक वहां रेडियो टैक्सी न चलने की जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि अगले 24 घंटे के अंंदर अवगत कराया जाए कि कितने डग्गामार वाहन चल रहे हैं । डग्गामार वाहनों के संचालन में कौन-कौन अधिकारी लिप्त हैं। सीडीओ झांंसी से योजनाओंं के निरिक्षण करने की बात कही।

-सिंघल ने डीएम से कहा वह जनता से सीधे संपर्क स्थापित करें। योजनाओं का फीडबैक लें।

-डीएम को फील्ड में जाना होगा। जिलों में रोजगार मेला का आयोजन कराया जाए।

-अच्छे कार्य करने वाले अधिकारियों को प्रोत्साहित किया जाएगा

-विकास कार्यों को गति न देने वाले अधिकारियों को दण्डित किया जाए।

-सीएम द्वारा चिन्हित 51 महत्वपूर्ण प्राथमिकताओं के कार्यों को प्रत्येक दशा में पूर्ण कराना होगा।

-डीएम जिलोंं में बेहतर लीडरशिप देकर शासकीय कार्यों की बेहतर डिलीवरी देंं।

-आम जनता के साथ धोखा देने वाले नकली दवाइयां, नकली दूध आदि बेचने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई कर जेल भिजवाया जाए।

Newstrack

Newstrack

Next Story