×

Raebareli News: रायबरेली में बच्चे की तेज बुखार से मौत, मंकीपॉक्स जैसे लक्षण से ग्रामीणों में मचा हड़कंप

Raebareli News: बच्चे के शरीर पर लाल स्पॉट के साथ फोटो वायरल हुई जिसमें लिखा गया कि खीरों थाना क्षेत्र के नुनैरा गाँव के रहने वाले सनी नाम के बच्चे की तेज बुखार से मौत हो गई।

Narendra Singh
Updated on: 2022-08-10T18:28:19+05:30
In Rae Bareli, the child died of high fever, there was a stir among the villagers due to symptoms like monkeypox.
X

रायबरेली: रायबरेली में बच्चे की तेज बुखार से मौत मंकीपॉक्स जैसे लक्षण से ग्रामीणों में मचा हड़कंप

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Raebareli News: देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (coronavirus) का प्रकोप अभी खत्म नहीं हुआ था कि एक और संक्रामक रोग (infectious disease) मंकीपाक्स (monkeypox) का कहर बरपने लगा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मंकीपाक्स के प्रकोप को अब वैश्विक आपातकाल घोषित कर दिया है।

डब्‍ल्‍यूएचओ के अनुसार मंकीपाक्स दुनिया के 70 से अधिक देशों में फैल चुका है। इस साल अब तक पूरी दुनिया में मंकीपाक्स के लगभग 14,000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं जबकि अफ्रीका में मंकीपाक्स से पांच लोगों की मौतें भी हुई हैं।

भारत में मंकीपाक्स दस्तक

भारत में भी मंकीपाक्स दस्तक दे चुका है, केरल में इस वायरस के तीन मामले सामने आ चुके है जिससे सबक लेते हुए उत्तर प्रदेश की सरकार ने मंकीपॉक्स को लेकर सभी जिले के सीएमओ को सतर्क रहने के लिए निर्देशित किया है। इस महामारी से निपटने के लिए एक वार्ड बन कर तैयार हैं।

लेकिन इसी बीच रायबरेली (Raebareli) के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक बच्चे के शरीर पर लाल स्पॉट के साथ फोटो वायरल हुई जिसमें लिखा गया कि खीरों थाना क्षेत्र (Khiro police station area) के नुनैरा गाँव के रहने वाले सनी नाम के बच्चे की तेज बुखार से मौत हो गई। उसके शरीर पर विशेष प्रकार के खूनी धब्बे नजर आए। इन धब्बों को देखकर ग्रामीणों में हड़कंप मच गया।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक की इस पोस्ट पर संज्ञान लेते हुए सीएमओ वीरेंद्र सिंह (CMO Virendra Singh) ने आरटीसी की चार सदस्यीय स्वास्थ्य विभाग की टीम को गाँव भेजा और पूरे गाँव के स्वास्थ्य की जाँच की जाएगी। उसके बाद जो जानकारी आएगी उसके अनुसार इलाज किया जाएगा। बच्चे के शरीर पर निशान और लक्षण मंकीपॉक्स के नही हैं। वहीं सोशल मीडिया पर यह फोटो वायरल होने पर स्वास्थ्य विभाग (health Department) में हड़कम्प मचा हुआ है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story