×

इस गैंग की महिलाएं संभालती हैं चोरी हुए बच्चे, मर्द करते हैं बिक्री

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 28 July 2018 1:50 PM GMT

इस गैंग की महिलाएं संभालती हैं चोरी हुए बच्चे, मर्द करते हैं बिक्री
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

सहारनपुर: सहारनपुर पुलिस ने एक ऐसे गैंग के छह सदस्यों को पकड़ा है, जो गली मोहल्लों में घुमकर न केवल बच्चे चोरी करते हैं, बल्कि यदि मौका लग जाए तो वह बच्चे का अपहरण भी कर फरार हो जाते हैं। खास बात यह है कि यदि आपका बच्चा एक साल से कम का है तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है। क्योंकि यह गैंग एक साल के कम उम्र के बच्चों का अपहरण और चोरी करते हैं। गैंग में शामिल महिला तब तक बच्चे कों संभालती और लालन पालन करती है, जब तक की बच्चे का खरीदार मिल जाए।

हम आपको बता दें कि सहारनपुर और आसपास के क्षेत्र में यह गैंग काफी दिनों से सक्रिय चला आ रहा है। विगत 14 जुलाई 2017 को सहारनपुर के गांव ढमोला से इस गैंग के सदस्य गांव निवासी सजिया नामक बच्ची से उसका डेढ़ वर्ष का भाई आसियान को छीनकर भाग गए थे। बच्चे के पिता इंतजार की ओर से इस बाबत थाना कोतवाली देहात में दर्ज कराई थी। सीसी टीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने बच्चा छीनने वालों की पहचान करने के बाद दबाव बनाया गया तो दो दिन बाद थाना गागलहेडी क्षेत्र के गांव भगवानपुर रोड आरोपी बच्चे को संत आषा राम बापू आश्रम में छोड़कर फरार हो गए थे।

इस बाबत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उपेंद्र कुमार अग्रवाल द्वारा बच्चा चोर गिरोह को पकड़ने के लिए टीमों का गठन किया गया था। षनिवार की दोपहर बाद पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह ने बच्चा चोर गिरोह पकडे़ जाने का खुलासा करते हुए बताया कि गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार कियाा गया है। जिनमें एक महिला भी शामिल है। उन्होंने बताया कि गिरोह के सदस्य पहले बहुत ही कम उम्र के बच्चों को उठाते हैं। जिनकी उम्र एक वर्श के अन्दर की हो और गैंग में उपस्थित महिलाएं उनको तब तक सम्भालती है, जब तक उस बच्चे के अच्छे दाम नहीं मिल जाते।

बताया कि गिरोह में शामिल महिला सुनीता उर्फ सरिता वर्श 2016 को थाना सदर बाजार से बच्चा चोरी में जेल जा चुकी है तथा गैंग के बाकी सदस्य इधर उधर गांव षहर से बच्चो को छीनकर व चोर कर लाते हैं। यह लोग छोटे बच्चों को आवाज न करे इसलिये उनको नषे आदि का इंजेक्षन देकर षान्त रखते हंै। अपहृत बच्चों को काफी ऊंची कीमत पर जरुरत मन्द लोगो को बेचते है। एस सिटी ने बताया कि कुछ छह सदस्य पकडे़ गए हैं, जबकि दो फरार चल रहे हैं। फरार बदमाषों की तलाष की जा रही है।

गिरफ्तार अभियुक्तों का नाम व पता

1-किरणदास पुत्र ज्ञान सिंह निवासी जानखेडा थाना रामपुर मनि0, सहारनपुर।

2-रियासत पुत्र युसूफ निवासी खानपुर गुर्जर थाना गंगोह, सहारनपुर।

3-मोहित उर्फ अमित पुत्र वीरपाल निवासी ग्राम नगली साधारण थाना दौराला जनपद मेरठ।

4-सुषील पुत्र महेन्द्र सिंह निवासी करौली थाना भगवानपुर उत्तराखण्ड।

5-उमेद पुत्र षकूर निवासी सरुरपुर थाना व जनपद बागपत।

6-श्रीमती सुनीता उर्फ सरिता पत्नी सुरेन्द्र सिंघल निवासी मोरगंज थाना कोतवाली नगर, सहारनपुर।

फरार अभियुक्तो का नाम व पता

1-रघुवीर सिंह पुत्र बारुमल निवासी रसूलपुर थाना कोतवाली देहात, सहारनपुर।

2-जोनी पुत्र नामालूम निवासी सुनहेटी खडखड़ी थाना गागलहेड़ी, सहारनपुर।

बरामदगी का विवरणः

1-एक अद्द हीरो हाण्डा स्पलेण्डर प्लस मोटर साइकिल एचआर 04 -9700।

2-एक अद्द सुपर स्पलेण्डर मोटर साइकिल नं0 यूपी 11 एक्यू-6312।

3-एक अद्द अवैध तमंचा .315 बोर मय दो कारतूस।

4-एक अद्द अवैघ तमंचा .32 बोर मय दो कारतूस।

5-एक अद्द अवैध तमंचा .12 बोर मय दो कारतूस।

4-दो अद्द चाकू।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story