×

Chitrakoot: संघ कार्यकर्ता के भजन कार्यक्रम में युवकों का हमला, कीर्तन-भजन को पहुंचे लोगों की हमलावरों ने तोड़ डाली बाइकें

Chitrakoot: शिवरामपुर कस्बे में संघ कार्यकर्ता के घर के बाहर चल रहे भजन कार्यक्रम में डेढ़ दर्जन युवकों ने धावा बोल दिया और कीर्तन में जुटे लोगों की खड़ी बाइकों को तोड़ दी।

Sunil Shukla (Chitrakoot)
Updated on: 5 Aug 2022 2:42 PM GMT
Chitrakoot News In Hindi
X

तोड़ी गई बाइक। 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Chitrakoot: शिवरामपुर कस्बे (shivrampur town) में गुरूवार की आधी रात संघ कार्यकर्ता के घर के बाहर चल रहे भजन कार्यक्रम में पहुंचकर डेढ़ दर्जन युवकों ने लाठी-डंडो व तमंचों से लैस होकर धावा बोल दिया। युवकों ने कीर्तन भजन में जुटे लोगों की खड़ी बाइकों को तोड़ दी। विरोध करने पर लोगों को बेरहमी से मारा-पीटा। सूचना के बाद पहुंची पुलिस को देखकर हमलावर भाग निकले। पुलिस ने एक हमलावर को दबोच लिया। पीडित की तहरीर पर कोतवाली कर्वी में हमलावरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। लेकिन अन्य हमलवारों की गिरफ्तारी न होने से लोग दहशत में है।

ये है पूरा मामला

शिवरामपुर कस्बे की अंग्रेजी शराब दुकान के बाहर रात 11 बजे रैपुरवा माफी गांव के कुछ युवक शराब पी रहे थे। इसी बीच वहां से कस्बे का युवक संजय प्रजापति बाइक लेकर गुजरा तो हार्न बजा दिया। जिस पर बैठे युवकों ने बाइक सवार के साथ अभद्रता कर उसे दौड़ा लिया। ऐसे में युवक तेजी के साथ कस्बे की ओर भागा। कस्बे में संघ कार्यकर्ता फूलचंद्र जायसवाल (Sangh worker Phoolchandra Jaiswal) के घर के बाहर भजन कार्यक्रम हो रहा था। युवक खुद को बचाने के लिए भीड़ में पहुंच गया। जहां पीछा कर रहे युवकों ने उसके साथ मारपीट करने की कोशिश किया तो मौजूद लोगों ने बीच-बचाव कराकर युवक को बचाया और उसे घर भेज दिया। इसके बाद सभी लोग भजन कार्यक्रम में जुट गए। कुछ देर बाद हमलावर युवक अपने गांव रैपुरवा माफी से कुछ अन्य युवकों को लेकर लाठी-डंडे व तमंचे लेकर आ गए।

बताते हैं कि इन युवकों ने बगैर कोई बातचीत के भजन कार्यक्रम में जुटे लोगों पर हमला शुरू कर दिया। जिससे पूरे कार्यक्रम में अफरा-तफरी मच गई। हमलवारों ने वहां पर खड़ी बाइकों को तोड़ना शुरू कर दिया। इसकी जानकारी आयोजक के बेटे ने पुलिस को दी। लेकिन सूचना पर पुलिस तत्काल नहीं पहुंची। जिससे हमलावरों का तांडव जारी रहा। कुछ देर बाद पुलिस के पहुंचने पर हमलावर भाग खडे़ हुए। जिसमें एक हमलावर को पुलिस दबोचकर कोतवाली कर्वी ले आई। अन्य हमलावारों की गिरफ्तारी न होने से लोग दहशत में है।

कई संगीन धाराओं पर मामला दर्ज: प्रभारी

कर्वी कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अशोक सिंह (Inspector in-charge of Karvi Kotwali Ashok Singh) ने बताया कि तहरीर के आधार पर हमलावरों के खिलाफ लूट, तोडफोड़, घर में घुसकर मारपीट समेत कई संगीन धाराओं के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

गोलक ले जाने के विरोध पर ताना तमंचा

शिवरामपुर कस्बे में हुई मारपीट व तोडफोड के मामले में भजन कार्यक्रम के आयोजक संघ कार्यकर्ता फूलचंद्र जायसवाल के बेटे दिलीप ने बताया कि हमलावरों ने उसकी दुकान का दरवाजा तोड़कर रखा गोलक उठा ले गए है। विरोध करने पर एक हमलवार ने तमंचा तान दिया। बताया कि गोलक में 20 हजार रूपए रखे थे।

हमलावरों ने जनप्रतिनिधि के समर्थन में की नारेबाजी

शिवरामपुर में भजन कार्यक्रम में शामिल लोगों के साथ मारपीट व तोड़फोड़ करने वाले हमलावर युवक एक जनप्रतिनिधि के समर्थन में नारेबाजी कर रहे थे। बताते हैं कि हमलावर युवक बीते विधानसभा के चुनाव में जनप्रतिनिधि के चुनाव दौरान सक्रिय प्रचारक रहे है। पीडित फूलचंद्र जायसवाल को भाजपा ने चुनाव दौरान बूथ अध्यक्ष बना रखा था। हमले के पीछे राजनीतिक प्रतिद्वंदिता की आशंका जताई जा रही है।

बोले जिम्मेदार

एसपी अतुल शर्मा (SP Atul Sharma) शिवरामपुर कस्बे में हुई घटना की बिंदुवार जांच कराई जाएगी। पीड़ित की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सीओ सिटी की अगुवाई में दो टीमें गठित की गई है। यह टीमें फरार हमलावरों की तलाश में लगी है।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story