×

Chitrakoot: अवैध स्टैंडों पर सख्ती के बाद फिर उड़ी धज्जियां, पुरानी जगहों से सवारियां भरते दिखे वाहन

Chitrakoot: प्रशासन ने अवैध बस व टैक्सी स्टैंडों को सख्ती के बाद निर्देश दिए गए थे कि संबंधित स्थानों से आगे शहर के भीतर कोई भी टैक्सी, बसें सवारियां भरने नहीं जाएंगी। लेकिन दो दिन बाद ही यही वाहन फिर से पुरानी जगहों पर सवारियां भरते नजर आने लगे है।

Sunil Shukla (Chitrakoot)
Updated on: 22 May 2022 1:26 PM GMT
Chitrakoot News
X

सड़क किनारे खड़े वाहन। 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Chitrakoot: तीन दिन पहले ही सीएम ने शहरों के भीतर प्रमुख मार्गों व चौराहों के करीब संचालित अवैध बस व टैक्सी स्टैंडों को सख्ती के साथ हटाने के आदेश दिए थे। पुलिस प्रशासन ने भी आनन-फानन में इसका पालन कराया। सभी मार्गों में संचालित स्टैंडों को हटाकर आगे शहर के किनारे कर दिया था। सख्त निर्देश दिए गए थे कि संबंधित स्थानों से आगे शहर के भीतर कोई भी टैक्सी, बसें सवारियां भरने नहीं जाएंगी। लेकिन दो दिन बाद ही यही वाहन फिर से पुरानी जगहों पर सवारियां भरते नजर आने लगे है। वैसे पहले की तरह इन वाहनों की स्टैंडों में संख्या नहीं रहती।

सूत्रों की मानें तो पुलिस भी पुरानी जगहों में आकर सवारियां भरने वाले वाहनों को अनदेखा कर रही है। फलस्वरूप जाम जैसी परिस्थितियां फिर से नजर आने लगी है। इसके पीछे वाहन संचालकों व जिम्मेदारों की मिलीभगत प्रतीत हो रही है। रविवार को मुख्यालय में रेलवे स्टेशन के बाहर कई टेंपो सवारियां भरने के लिए लाइन लगाए खड़े रहे। इसी तरह ट्राफिक चौराहा व बस स्टैंड के ईद-गिर्द हाईवे किनारे कई प्राइवेट वाहन सवारियां भरते नजर आए। वहीं देवांगना रोड़ व पहाड़ी मार्ग के किनारे पूर्व की तरह डग्गामार वाहन सवारियां भर रहे है। यहां तक कि पुलिसकर्मियों के पूंछने पर वह दुकानों से माल लादने का बहाना बनाते है और घंटों सवारियों के इंतजार में खड़े रहते है।

हटाने के बाद फिर से होने लगा अतिक्रमण

मुख्यालय में पालिका व प्रशासन ने व्यापारियों के साथ बैठक करने के बाद लगातार कई दिन अतिक्रमण हटाओ अभियान (encroachment removal campaign) चलाया। जिसमें प्रमुख मार्गों के किनारे नालियोंं के बाहर किए गए अतिक्रमण को हटवाया गया। सख्त निर्देश दिए गए थे कि दोबारा अतिक्रमण पाए जाने पर सख्त कार्रवाई होगी। लेकिन तीन दिन बाद फिर से अतिक्रमण होने लगा है। ट्राफिक चौराहा से बस स्टैंड, पुरानी बाजार, सदर रोड, कोतवाली रोड, स्टेशन रोड़ आदि में फिर से दुकानदार सड़क की तरफ बढ़ने लगे है। ओवरब्रिज के नीचे दोनों तरफ स्थिति यह है कि दुकानदारों के अतिक्रमण की वजह से निकलना मुश्किल हो गया है। दुकानदार लोगों से अभद्रता भी करते है।

अतिक्रमण क्षेत्र में मिलने वाली सामग्री को जब्त कर होगा केस दर्ज

नगर पालिका के ईओ रामअचल कुरील (EO Ramachal Kuril) ने कहा कि अभियान चलाकर अतिक्रमण हटवाया गया है। जिन दुकानदारों ने फिर से अतिक्रमण कर लिया है, उनको चिन्हित किया जा रहा है। अतिक्रमण क्षेत्र में मिलने वाली सामग्री को जब्त कर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।

मार्गों के किनारे कहीं भी नहीं रहेंगे वाहन स्टैंड

सीओ सिटी शीतला प्रसाद पांडेय (CO City Sheetla Prasad Pandey) ने कहा कि शहर के भीतर प्रमुख मार्गों के किनारे कहीं भी वाहन स्टैंड नहीं रहेंगे। जो भी वाहन खड़ा पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुरानी जगहों में अगर सवारियां भरते प्राइवेट वाहन नजर आए तो कोतवाल व यातायात प्रभारी जिम्मेदार माने जाएंगे।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story