Top

यूपी: MBA पास युवाओं को सरकारी अस्पताल में मिलेगी नौकरी, डॉक्टर सिर्फ करेंगे इलाज

सीएम योगी ने एमबीए पास युवाओं को जल्द सरकारी अस्पतालों मेें नौकरी देने का आदेश दिया है. अब डॉक्टर सिर्फ इलाज करने का काम करेंगे।

Rahul Singh Rajpoot

Rahul Singh RajpootPublished By Rahul Singh Rajpoot

Published on 6 Jun 2021 8:53 AM GMT

बड़ा फैसला: यूपी में MBA पास युवाओं को सरकारी अस्पताल में मिलेगी नौकरी
X
फाइल फोटो, साभार-सोशल मीडिया
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश में एमबीए पास बेरोजगार युवाओं को जल्द ही नौकरी की सौगात मिलने वाली है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने टीम-9 के साथ बैठक में एक बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि एमबीए डिग्री धारकों को सरकारी अस्पतालों में जल्द नौकरी दी जाए और डॉक्टरों से सिर्फ इलाज करवाने का काम लिया जाए। बता दें कोरोना काल के दौरान यूपी में स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अस्पतालों और कार्यालयों में प्रबंधकीय कार्यों के लिए डॉक्टरों की तैनाती की गई है। सीएम योगी ने ऐसे डॉक्टरों को तत्काल प्रभाव से मुक्त करने और उनसे इलाज का काम लेने को कहा है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने टीम-9 के अधिकारियों से कहा है कि चिकित्सा शिक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग के कार्यालयों में प्रबंधकीय कार्यों के लिए एमबीए पास युवाओं को रखा जाए। मैनेजमेंट की पढ़ाई किए ये युवा बेहतर ढंग से मैनेजमेंट का काम देखेंगे और डॉक्टर मरीजों का इलाज करेंगे। अभी बड़ी संख्या में डॉक्टर इन कार्यालयों में तैनात हैं और प्रबंधकीय कार्य देखने के कारण वह मरीजों को नहीं देख पाते हैं।

'टेलीकंसल्टेशन की व्यवस्था को बेहतर करें'

सीएम योगी निर्देश दिया कि सभी मेडिकल कॉलेजों, जिला स्तरीय अस्पतालों में टेलीकन्सल्टेशन की व्यवस्था को और बेहतर किया जाए। अधिकाधिक डॉक्टरों को इससे जोड़ा जाए। लोगों को इस सेवा के उपयोग के लिए जागरूक किया जाए।

यूपी में शुरू हुई ओपीडी

कोविड-19 की दूसरी लहर अब यूपी में कमजोर पड़ने लगी है। ऐसे में सरकार के आदेश के बाद अस्पतालों में ओपीडी और आईपीडी सेवाएं, सर्जरी के साथ अन्य सेवाएं शुरू कर दी गई है। अब जरुरी है कि अतिरिक्त कामों में लगाए डॉक्टर्स को मुक्त किया जाए। जिससे कोविड मरीजों के साथ-साथ अन्य बीमारी से ग्रसित मरीजों को भी सही समय पर इलाज मिल सके।

चार जिलों को छोड़कर बाकी जगहों से पाबंदी हटी

कोरोना की दूसरी लहर कमजोर पड़ने के बाद अब प्रदेश में धीरे-धीरे पाबंदियां कम होने लगी है। अब यूपी के चार जिलों को छोड़ बाकी जगहों से कोरोना कर्फ्यू हटा लिया गया है। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने ये जानकारी दी। नवीन सहगल के अनुसार प्रदेश में लखनऊ, मेरठ, सहारनपुर और गोरखपुर को छोड़कर सभी जिलों से कोरोना कर्फ्यू हटाया गया है। दरअसल इन चार जिलों में कोरोना के सक्रिय मामले अभी 600 से अधिक हैं।

नाइट कर्फ्यू रहेगा जारी

ताजा गाइडलाइंस के अनुसार अब यूपी में सोमवार से शुक्रवार तक दुकानें और बाजार खुल सकते हैं। ऐसे में वीकेंड और नाइड कर्फ्यू जारी रहेगा। रात में 7 बजे से सुबह 7 बजे तक पाबंदियां जारी रहेंगी। वहीं, शादी समारोह में 25 से ज्यादा मेहमानों की अनुमति नहीं होगी।

राज्य में 17000 एक्टिव केस

यूपी में शनिवार को 1092 नए कोरोना के केस मिले थे, जबकि 120 लोगों की मौत हुई थी। कल 120 और मरीजों की मौत के बाद अब तक कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या 21,151 पहुंच गई है और 1,092 नये मरीजों को मिलाकर कुल संक्रमितों का आंकड़ा 16,97,352 पर पहुंच गया है। राज्य में इस समय करीब 17 हजार एक्टिव मरीज हैं जिनका इलाज चल रहा है।

Rahul Singh Rajpoot

Rahul Singh Rajpoot

Next Story