×

पार्क-स्मारक के निर्माण के बाद अब मेंटेनेंस में भी घोटाला, CM योगी ने मंगाई रिपोर्ट

पिछली सरकारों के दौरान बने पार्क और स्मारक स्थलों के निर्माण, रख रखाव में भी घपले-घोटाले की सूचना पर सीएम की नजर टेढ़ी हो गई है। उन्होंने संबंधित विभागों से निर्माण के बाद पार्को और स्मारकों में मेंटेनेंस से जुड़ी सभी फाइलें तालाब की हैं।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 25 Jan 2018 11:21 AM GMT

पार्क-स्मारक के निर्माण के बाद अब मेंटेनेंस में भी घोटाला, CM योगी ने मंगाई रिपोर्ट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: पिछली सरकारों के दौरान बने पार्क और स्मारक स्थलों के निर्माण, रख रखाव में भी घपले-घोटाले की सूचना पर सीएम की नजर टेढ़ी हो गई है। उन्होंने संबंधित विभागों से निर्माण के बाद पार्को और स्मारकों में मेंटेनेंस से जुड़ी सभी फाइलें तालाब की हैं।

जानकारी के अनुसार सीएम के आदेश के बाद एलडीए सहित संबंधित विभागों में हड़कंप मच गया है और अधिकारी फाइल तैयार करने में जुट गए हैं।

क्या है पूरा मामला

बसपा शासनकाल में बने स्मारकों में घोटाला हुआ जिसकी जांच भी जारी है। उसके बाद पिछली सरकार में भी समाजवादी नेताओं के नाम पर कई पार्क और स्मारक बनाए गए। इनके निर्माण में जो हुआ सो हुआ अब इनके मेंटेनेंस में घोटाला होने की खबरे आई हैं। इस सूचना के बाद मौजूदा योगी सरकार के तेवर तल्ख़ हो गए हैं जिसका नतीजा है कि सीएम योगी ने मेंटेनेंस से जुड़ी फाइल मंगाई है।

अधिकारियों पर गाज गिरेगी अगर...

एलडीए के सूत्रों की मानें तो सीएम के आदेश के बाद महकमे के बड़े अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है और किसी भी तरह से फाइल ठीक करने की कोशिश की जा रही। एक महीने के भीतर अधिकारियों ने फाइल जमा नहीं की तो कई जिम्मेदार अधिकारियों पर गाज गिरनी तय है.

इन पार्कों और स्मारकों की फाइल मांगी

बसपा शासनकाल में लखनऊ और नॉएडा में बने स्मारक इसमें शामिल हैं। इसके आलावा सपा के कार्यकाल में बने जनेश्वर मिश्रा पार्क, लोहिया पार्क के मेंटेनेंस सहित सपा सरकार की ओर से बनवाए गए स्मारक से संबंधित फाइल तलब की गयी है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story