×

Sant Kabir Nagar News: संत कबीर नगर जिले में पहुंचे सीएम योगी, राष्ट्रपति के कार्यक्रम की तैयारियों का लिया जायजा

Sant Kabir Nagar News: संतकबीरनगर के मगहर में 5 जून को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के दौरे के पूर्व कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण करने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे हैं।

Amit Pandey
Updated on: 29 May 2022 11:49 AM GMT
CM Yogi reached Sant Kabir Nagar district, took stock of the preparations for the Presidents program
X

संतकबीरनगर: संत कबीर नगर जिले में पहुंचे सीएम योगी

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sant Kabir Nagar News: संतकबीरनगर के मगहर में 5 जून को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) के दौरे के पूर्व कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण करने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) पहुंचे हैं। मगहर पहुंचने के बाद उन्होंने कबीर समाधि पर मत्था टेका है। इसके बाद उन्होंने अधिकारियों के साथ तैयारियों का जायजा लिया। आ

आपको बता दें कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का मगहर में पर्यटन की दृष्टिकोण से पूर्ण कराए गए विकास कार्यों का लोकार्पण करेंगे। जिसको लेकर लगभग तैयारियां पूरी हो गई है। राष्ट्रपति यहां पर महान संत कबीर की समाधि और मजार स्थल का दर्शन कर मत्था टेकने के बाद कबीर अकादमी का उद्घाटन करेंगे।

यूपीपीसीएल के सभी कार्य पूर्ण

कबीर चौरा परिसर में यूपीपीसीएल के जरिए कराए जा रहे सभी विकास कार्य लगभग पूर्ण हो चुके हैं। यहां राष्ट्रपति के आगमन के पूर्व 37 लाख की लागत से समाधि/मजार व गुफा की पुताई का कार्य, समाधि व मजार परिसर के चारों तरफ रेलिंग, चार गेट, पाथवे व पाथवे के चारों तरफ स्टील की रेलिंग, समाधि व मजार परिसर में फर्श पर लाल पत्थर का कार्य था। जिसे पूरा कर लिया गया है।

संतकबीर अकादमी, शोध संस्थान बनकर तैयार

मगहर में संतकबीर अकादमी, शोध संस्थान, छात्रावास आदि के कार्य पूर्ण हो चुके हैं। जो 23 करोड़ 59 लाख रुपये की लागत से ये कार्य हुए हैं। कबीर चौरा परिसर में स्वदेश दर्शन के अंतर्गत 17 करोड़ 67 लाख की लागत से कुल 20 विकास के कार्य कराए जा रहे हैं। जिनमें इंटरपिटेशन सेंटर, लाइट एंड साउंड सिस्टम, प्रदर्शनी सेंटर, सोलर लाइट, पार्क का सुंदरीकरण, घाट के निर्माण, गजवे, कैफेटेरिया, सोलर लाइट, दुकानें, पर्यटकों के बैठने के लिए बेंच आदि का कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story