Top

युवकों को हॉकी-सरिए से पीटा, आगरा के एक इलाके में सांप्रदायिक तनाव

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 2 Jun 2016 12:18 AM GMT

युवकों को हॉकी-सरिए से पीटा, आगरा के एक इलाके में सांप्रदायिक तनाव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगराः एत्मादउद्दौला थाना इलाके के नगला देवजीत में बुधवार रात चार युवकों पर हॉकी और सरियों से हमला किया गया। इसकी जानकारी होने पर बस्ती के लोग जुट गए। दूसरे पक्ष के भी लोगों की भीड़ जमा हो गई। इससे सांप्रदायिक तनाव फैल गया। मौके पर डीआईजी अजय मोहन शर्मा फोर्स के साथ पहुंचे। फिलहाल हालात नियंत्रण में हैं।

क्या है मामला?

-नगला देवजीत में लक्ष्मी नारायण मंदिर है।

-आरोप है कि एक संप्रदाय के युवक मंदिर के पास आए दिन शराब पीते हैं।

-इसका स्थानीय लोग कई बार विरोध कर चुके हैं।

-बुधवार रात युवक मंदिर के पास पहुंचे और जीतेंद्र नाम के युवक से पानी मांगा।

-जीतेंद्र के मना करने पर उससे युवकों ने मारपीट भी की।

युवकों ने लौटकर किया हमला

-जीतेंद्र को युवकों ने पीटा तो लोगों ने बीच-बचाव करा दिया।

-डेढ़ घंटे बाद युवक अपने 20-25 साथियों के साथ लौटे।

-हॉकी और सरियों से जीतेंद्र, उसके भाइयों दीपक, सूरज और गोविंद पर हमला बोला।

फैल गया सांप्रदायिक तनाव

-युवकों की पिटाई के विरोध में बस्ती के लोग बाहर निकल आए।

-दूसरे संप्रदाय के लोग भी मौके पर जुट गए।

-पुलिस ने दोनों तरफ के लोगों को घर भेजा।

-डीआईजी ने इसे पड़ोसियों के बीच विवाद बताया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story