Top

सबसे सस्ता स्मार्ट फोन हुआ कानूनी हैंग, एसोचैम ने थाने में दी शिकायत

Admin

AdminBy Admin

Published on 19 Feb 2016 8:47 PM GMT

सबसे सस्ता स्मार्ट फोन हुआ कानूनी हैंग, एसोचैम ने थाने में दी शिकायत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सिर्फ 251 रुपए में स्मार्ट फोन फ्रीडम-251 देने का दावा करने वाली कंपनी रिंगिंग बेल्स के खिलाफ एसोचैम ने लखनऊ के हजरतगंज थाने में शिकायत दी है। कंपनी पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

क्या कहा है तहरीर में?

-कंप्यूटर व्यापार मंडल के प्रेसिडेंट और एसोचैम के वाइस चेयरमैन संदीप सक्सेना ने थाने में अर्जी दी।

-इसमें लिखा गया है कि जिन फीचर्स को फ्रीडम 251 रुपए में देने की बात कही जा रही है, वैसा फोन 3000 रुपए से कम कीमत में नहीं बनाया जा सकता।

-फ्रीडम 251 बेचने वाली कंपनी असल में डाटा विंड कंपनी की ही है जो आकाश टैबलेट सप्लाई नहीं कर पाई थी और ब्लैक लिस्टेड है।

-मोबाइल की बुकिंग शुरू होते ही सर्वर खराब हो जाना जनता के साथ खिलवाड़ करने जैसा है। फ्रीडम 251 के नाम पर जनता से पैसों की उगाही का प्रयास किया जा रहा है।

जांच के आदेश

-एसोचैम ने एसपी ईस्ट से इस मामले की जांच करने की बात भी कही है।

-एसपी ईस्ट ने बताया कि एप्लीकेशन का संज्ञान लेकर जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

-जांच की प्रारंभिक रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

इनकम टैक्स की भी छापेमारी

-शुक्रवार को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने भी रिंगिंग बेल्स कंपनी पर छापेमारी की।

-इस मामले की जांच की जा रही है कि प्रोजेक्ट में लगी रकम के लिए पैसा कहां से आया।

क्या है मामला

-कंपनी रिंगिंग बेल्स प्राइवेट लिमिटेड ने 251 रुपए में बेहतरीन फीचर्स वाला स्मार्ट फोन देने का दावा किया है।

-गुरुवार से फोन की बुकिंग शुरू करने की घोषणा की थी। साइट क्रैश होने की वजह से यह टल गया है।

इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन ने भी की शिकायत

-इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन ने टेलीकॉम मिनिस्ट्री से रिंगिग बेल्स प्राइवेट लिमिटेड की शिकायत की है।

-आईसीए ने कहा कि इस तरह के प्रोडक्ट की बिल ऑफ मटीरियल (बीओएम) वैल्यू 40 डॉलर यानी 2,700 रुपए आती है। वो भी तब जब इसे सस्ती सप्लाई चेन से खरीदा जाए।

-आईसीए के नेशनल प्रेसिडेंट पंकज महिंद्रू ने टेलिकॉम मिनिस्टर को लिखे लेटर में कहा कि रिटेल सेल्स के दौरान प्रोडक्ट कॉस्ट में ड्यूटी, टैक्स, डिस्ट्रीब्यूशन और रिटेल मार्जिन भी जुड़ते हैं। जब इस स्मार्टफोन की रिटेल कॉस्ट 4,100 रुपए बैठती है, तो यह 251 रुपए में कैसे बिक सकता है?

कंपनी के पते पर किराना दुकान

रिंगिंग बेल्स पांच महीने पहले ही रजिस्टर्ड हुई है। कंपनी का पता शामली में पाकिस्तान मंडी दर्ज है। कंपनी के दिए पते पर किराना दुकान है जो रिंगिंग बेल्स प्रा. लिमिटेड के एमडी मोहित कुमार के पिता की है।

बीजेपी सांसद ने कहा घोटाले की तैयारी

बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने इसमें घोटाले का शक जताया है। उन्होंने कहा कि यह स्पीक इंडिया की तरह ग्राहकों को लूटने की कोशिश है। कंपनी कुछ ही महीने पहले बनी है। ढाई सौ रुपए में फोन बनाना और बेचना संभव नहीं है।

रिंगिंग बेल्स का दावा

-रिंगिंग बेल्स के प्रेसिडेंट अशोक चड्ढा ने लॉन्चिंग इवेंट में कहा- हम फ्रीडम-251 स्मार्टफोन का हार्डवेयर भारत में बनाएंगे।

-हम इसके लिए नोएडा और उत्तराखंड में पायलट प्रोजेक्ट ला रहे हैं। इसकी कॉस्ट 500 करोड़ रुपए और टारगेट कैपिसिटी हर महीने 5 लाख यूनिट की होगी।

-बिल ऑफ मटीरियल्स के हिसाब से इस स्मार्टफोन की कॉस्ट 2000 रुपए है। भारत में बनाकर हम इसमें से 400 रुपए बचा लेंगे।

-ऑनलाइन बेचकर हम इससे 400 रुपए और बचा लेंगे। अगर प्री-ऑर्डर पर नंबर बढ़ेगा तो हम 400 रुपए आैर सेव कर लेंगे

-इसके बाद जब प्लैटफॉर्म बड़ा हो जाएगा तो हम ऐसे प्रोडक्ट्स हाईलाइट करेंगे, जो कस्टमर्स के लिए वैल्यूएबल होंगे।”

ये हैं स्मार्टफोन के फीचर

-फोन का नाम फ्रीडम इंडिया रखा गया है।

-फोन की एक साल वारंटी है।

-इसमें दो सिम लग सकेंगे और 8 जीएम इंटरनल मेमोरी है।

-3.2 एमपी बैक और 0.3 फ्रंट कैमरा।

-एक जीबी रैम।

Admin

Admin

Next Story