Top

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 15 न्यायिक अधिकारियों को दी अनिवार्य सेवानिवृत्ति

Admin

AdminBy Admin

Published on 18 April 2016 4:48 AM GMT

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 15 न्यायिक अधिकारियों को दी अनिवार्य सेवानिवृत्ति
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इलाहाबाद: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 15 न्यायिक अधिकारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दे दी। साथ ही एक अधिकारी की 10 फीसदी पेंशन भी जब्त कर ली गई है। ये फैसला लखनऊ में हुई फुल कोर्ट मीटिंग में लिया गया। इसकी अध्यक्षता मुख्य न्यायाधीश डॉ. डीवाई चंद्रचूड़ ने की।

ये भी पढ़ें...हाईकोर्ट की चेतावनी- सरकार बनाने के लिए गलत तरीके न इस्तेमाल करे BJP

महानिबंधक एसके ने बताया कि अपनी जिम्मेदारी को सही तरीके न निभाना, मानकों का पालन न करना और कई शिकायतों के आधार पर इन्हें रिटायरमेंट देने का फैसला किया गया है। इनसे में एक गोरखपुर में रहे अशोक सक्सेना पर गंभीर आरोप थे।

बता दें कि इससे पहले भी हाईकोर्ट ने अनियमितताओं पर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए सीनियर डिवीजन रैंक के चार जजों को बर्खास्त कर दिया था। वहीं, इससे भी पहले 11 ट्रेनी जजों की सेवाएं समाप्त कर दी गई थीं।

ये भी पढ़ें...मणिकर्णिका घाट सहित कई धरोहर अवैध घोषित, हाईकोर्ट को सौंपी गई सूची

Admin

Admin

Next Story