Top

मृतक की बेटी ने कहा- पापा को मरता छोड़ भागीं स्मृति, बेटे ने कराई FIR

Admin

AdminBy Admin

Published on 6 March 2016 10:45 AM GMT

मृतक की बेटी ने कहा- पापा को मरता छोड़ भागीं स्मृति, बेटे ने कराई FIR
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मथुरा: यमुना एक्सप्रेस वे पर एचआरडी मनिस्टर के फाफिले से एक्सीडेंट के बाद मारे गए डॉ. आरके नागर की घायल बेटी ने स्मृति ईरानी पर संवेदनहीनता का आरोप लगाया है। संदिली नागर ने कहा, ''मैंने हाथ जोड़कर स्मृति ईरानी से मदद मांगी, लेकिन वह मेरे पापा को सड़क पर तड़पते हुए छोड़ गाड़ी में बैठकर भाग निकलीं। यदि पापा को समय पर हॉस्पिटल पहुंचाया जाता तो वह जिंदा होते। दो घंटे बाद दिल्ली के एक परिवार ने एंबुलेंस बुलाई।''

दर्ज कराई एफआईआर

डॉक्टर नागर के बेटेे अभिषेक ने मांट थाना में एक एफआईआर दर्ज कराई है। इसके अनुसार स्मृति ईरानी के काफिले की गाड़ी से एक्सीडेंट हुआ था पर मंत्री ने कोई मदद नहीं की और गाड़ी में बैठकर निकल गईं।

एफआईआर की कॉपी एफआईआर की कॉपी

कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

यह मामला राजनीतिक रंग भी लेने लगा है। कांग्रेस और एनएसयूआई ने आरोप लगाया है कि स्मृति ईरानी की गाड़ी ने आगरा निवासी रमेश नागर को कुचल दिया। केंद्रीय मंत्री के खिलाफ मुकदमा दर्ज की हो।

-घटना के विरोध में रविवार को मथुरा लोकसभा क्षेत्र के युवा कांग्रेस और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने धरना दिया।

-रमेश नागर के परिजनों के साथ मथुरा पोस्टमार्टम हाउस पर जाम लगाया।

-विक्रम वाल्मीकि, मुकेश धनगर, विवेक अग्रवाल, अशोक वाल्मीकि और हरीश सारस्वत ने स्मृति के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

क्या है मामला?

-भाजयुमो की राष्ट्रीय अधिवेशन से लौट रहीं स्मृति ईरानी के काफिले का शनिवार रात एक्सीडेंट हो गया।

-काफिले की कार से कई बाइक टकरा गईं। कई वाहन भी आपस में भिड़ गए।

-एक बाइक सवार नागर की मौत हो गई और उनकी 14 वर्षीय बेटी संदिली और 11 साल का भतीजा राज गंभीर रूप से घायल हो गए। स्मृति ईरानी को भी हल्की चोटें आईं।

-डॉ. नागर बाइक से दोनों बच्चों के साथ शादी में जाने के लिए निकले थे।

Admin

Admin

Next Story