Top

शर्मनाकः रेप की कोशिश करने वाले को सिर्फ 5 जूते मारकर पंचायत ने छोड़ा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 May 2016 12:01 AM GMT

शर्मनाकः रेप की कोशिश करने वाले को सिर्फ 5 जूते मारकर पंचायत ने छोड़ा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगराः यहां के बरहन थाना इलाके में एक पंचायत ने रेप की कोशिश के एक मामले में शर्मनाक फैसला सुनाया है। पंचायत ने पीड़िता के पिता से कहा कि वह आरोपी को 5 जूते और थप्पड़ मारे। जब ये सजा दे दी गई तो पंचायत ने मामले को रफा-दफा कर दिया।

रेप करने की कोशिश की थी

-नयाबांस इलाके के दंपति ने पंचायत के सामने शिकायत की थी।

-युवती ने बताया था कि 20 साल के युवक ने उससे रेप करने की कोशिश की।

-इसके बाद ही पंचायत ने आरोपी को जूते और थप्पड़ मारने की सजा सुनाई।

-युवती के पति ने आरोपी को सजा दी, जिसके बाद उसे जाने दिया गया।

पुलिस में न जाने का बनाया दबाव

सूत्रों के अनुसार पीड़िता के परिवार के सदस्यों ने भी उस पर दबाव बनाया कि वह पुलिस में शिकायत न करे, ताकि समाज में उनकी बेइज्जती न हो। ऐसे में मामला पंचायत तक ले जाकर ही रफा-दफा कर दिया गया।

क्या कहना है पुलिस का?

बरहन थाने के प्रभारी अवधेश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि इस मामले में कोई शिकायत नहीं आई है। हम नहीं जानते कि हकीकत में हुआ क्या है, लेकिन ये नयाबांस के जाटव समुदाय की पंचायत का मामला है और पुलिस को जानकारी मिली है कि किसी को थप्पड़ मारने की सजा सुनाई गई थी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story