Top

VIDEO: साक्षी बोले- इस्लाम में महिलाओं को समझा जाता है पैर की जूती

Admin

AdminBy Admin

Published on 16 April 2016 9:55 AM GMT

VIDEO: साक्षी बोले- इस्लाम में महिलाओं को समझा जाता है पैर की जूती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने इस्लाम धर्म को लेकर एक बार फिर विवादित बयान दिया है। साक्षी ने कहा इस्लाम में महिलाओं को पैर की जूती समझा जाता है। उन्होंने मुस्लिम महिलाओं के मस्जिद में नमाज अदा करने का अधिकार दिए जाने की मांग उठाई। साक्षी महाराज शनिवार को अपने संसदीय क्षेत्र उन्नाव आए हुए थे।

उनका कहना था कि इस्लाम में भी महिलाओं के अधिकारों के लिए कोर्ट से हस्तक्षेप किए जाने का आग्रह किया है। साक्षी ने कहा देश फतवों से नहीं संविधान से चलना चाहिए।

ये भी पढ़ें ...साक्षी महाराज ने कहा-विदेशी पैसों से देवबंद-मदरसों में बनते हैं आतंकी

नमाज अदा करने को लेकर कोर्ट करे हस्तक्षेप

भाजपा सांसद ने शनि शिंगणापुर में महिलाओं के प्रवेश की तर्ज पर कोर्ट से मुस्लिम महिलाओं के नमाज अदा करने को लेकर हस्तक्षेप करने की मांग की है। साक्षी यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा, 'इस्लाम में महिलाओं को पैर की जूती समझा जाता है।जिस तरह पैर की जूती को जब मन चाहा इस्तेमाल किया और फिर उतार दिया जाता है। उसी तरह इस्लाम में महिलाओं के साथ हो रहा है।

ये भी पढ़ें ...साक्षी महाराज ने की JNU बंद करने की मांग, राहुल के खिलाफ दर्ज हो FIR

शंकराचार्य पर साधा निशाना

-साक्षी महाराज ने शंकराचार्य के विवादित बयानों पर निशाना साधते हुए उनके पद पर ही सवाल खड़े किए।

-उन्होंने शंकराचार्य पर समाज में विघटन करने वाला बयान देने का आरोप लगाया।

-साक्षी ने कहा, शंकराचार्य कांग्रेस से प्रेरित हैं और उसी की तरह फूट डालो शासन करो की नीति अपनाते हैं।

-सांसद साक्षी महाराज ने शंकराचार्य को बहस के लिए आमंत्रित किया।

ये भी पढ़ें ...VHP नेता की मौत पर भड़के साक्षी महाराज, कहा-होता है एक्शन का रिएक्शन

कहा-गो हत्या पर बने सख्‍त कानून

-साक्षी ने पीएम नरेंद्र मोदी से गो हत्या पर कानून बनाने की मांग की है।

-कहा, इजरायल और रूस की तरह देश में गो हत्या पर 72 घंटों में फांसी की सजा का प्रावधान हो।

-इजरायल और रूस की तरह भारत में भी गो हत्या पर कड़े कानून बनाए जाए।

Admin

Admin

Next Story