Top

मुस्लिम युवकों ने पेश की मिसाल, कोरोना मृतकों का कर रहे अंतिम संस्कार, देखें तस्वीरें

शिया मुस्लिम युवकों के एक ग्रुप ने स्वेच्छा से कोविड-19 से मृत लोगों के अंतिम संस्कार का जिम्मा उठाया है।

Ashutosh Tripathi

Ashutosh TripathiReporter Ashutosh TripathiShreyaPublished By Shreya

Published on 28 April 2021 9:14 AM GMT

मुस्लिम युवकों ने पेश की मिसाल, कोरोना मृतकों का कर रहे दाह संस्कार, देखें फोटोज
X

पीपीई किट में लोग (फोटो- न्यूजट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कोरोना वायरस (Coronavirus) काल में भले ही लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हों या न, लेकिन अपनों से डिस्टेंस जरूर बनाने लगे हैं। तेजी से बढ़ते कोरोना के बीच एक बार फिर से कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जहां पर महामारी के डर की वजह से अपने ही अपनों से दूरी बना रहे हैं।

खासकर कोरोना से जान गंवाने वाले मरीजों के रिश्तेदार उन्हें हाथ लगाने से पीछे हट रहे हैं। ऐसे समय में शिया मुस्लिम युवकों के एक ग्रुप ने जो कि ना तो हेल्थ वर्कर हैं, ना किसी मेडिकल फील्ड से, लेकिन स्वेच्छा से कोविड-19 से मृत लोगों के अंतिम संस्कार का जिम्मा उठाया है।

पीपीई किट में युवक (फोटो- न्यूजट्रैक)

अंतिम संस्कार करते युवक (फोटो- न्यूजट्रैक)

राजधानी लखनऊ में तालकटोरा स्थित कर्बला व दूसरी जगहों पर जहां मृत व्यक्ति के रिश्तेदार भी हाथ लगाने से पीछे हट रहे हैं और अंतिम संस्कार करने में डर रहे हैं। ऐसे वक्त में यह युवक आगे बढ़ कर पूरे धार्मिक अनुष्ठान के साथ उन लोगों का अंतिम संस्कार कर रहे हैं।

पीपीई किट के साथ अंतिम संस्कार करते युवक (फोटो -न्यूजट्रैक)

कोरोना मृतक का अंतिम संस्कार करते युवक (फोटो - न्यूजट्रैक)

बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। बीते 24 घंटे में यूपी में 265 लोगों की जान गई है जिसके चलते सूबे में कोरोना से मरने वालों की संख्या 11678 हो गई है। जबकि इस दौरान महामारी से 32993 लोग संक्रमित हुए हैं।

सबसे ज्यादा राजधानी लखनऊ में 4437 नए मामले सामने आए हैं। सूबे में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 306458 हो गई है। आपको बता दें कि बीते 24 घंटे में लखनऊ में 39, कानपुर में 15, प्रयागराज में 13, वाराणसी में 13 मौते हुई हैं।

Shreya

Shreya

Next Story