Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बहराइच में कोरोना हुआ बेकाबूः पांच लोगों की मौत इतने मिले पॉजिटिव

दो सगे भाई की कोरोना संक्रमण से मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई। प्रोटोकॉल के तहत शव का अंतिम संस्कार करवा दिया गया है

Anurag Pathak

Anurag PathakReporter Anurag PathakShwetaPublished By Shweta

Published on 20 April 2021 3:14 PM GMT

बहराइच में कोरोना हुआ बेकाबूः पांच लोगों की मौत इतने मिले पॉजिटिव
X

बहराइच में कोरोना हुआ बेकाबू पांच लोगों की मौत ( फाइल फोटो- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बहराइचः दो सगे भाई की कोरोना संक्रमण से मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई। प्रोटोकॉल के तहत शव का अंतिम संस्कार करवा दिया गया है। परिवार के लोगों ने मेडिकल कॉलेज प्रशासन पर समय से ऑक्सीजन न लगाने का आरोप लगाया है।

बता दें कि उधर शहर निवासी सपा नेता, कपड़ा व्यवसायी व शिवपुर निवासी रोजगार सेवक की मौत कोरोना संक्रमण से हुई है। सभी का प्रोटोकॉल के तहत शव का अंतिम संस्कार करवा दिया गया है। मृतक के परिवारीजनों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया है। दूसरी और मंगलवार को जनपद में २०९ लोग पॉजिटिव मिले हैं ।

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण से मौतों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। शहर के मोहल्ला चिक्कीपुरा निवासी कपड़ा व्यापारी अनुपम जैन (५५) शनिवार को जांच के दौरान कोरोना पॉजिटिव आए थे। होम आईसोलेशन में कपड़ा व्यवसायी को रखा गया था। सोमवार देर रात को व्यवसायी की मौत हो गई। शहर के मोहल्ला काजीपुरा निवासी सुबूरउल्ला खां सपा नेता हैं। वह भी कोरोना पॉजिटिव थे। गंभीर हालत में उन्हें लखनऊ में भर्ती कराया गया था। लखनऊ में इलाज के दौरान सपा नेता की मौत हो गई।

दैनिक समाचार के संवाददाता को कोरोना से मौत

विशेश्वरगंज विकास खंड के कंछर निवासी अधिवक्ता विपिन मिश्रा (३५) लखनऊ से प्रकाशित दैनिक समाचार पत्र के संवाददाता थे। वह ग्राम प्रधान पद का चुनाव भी लड़ रहे थे। इसके लिए नामांकन भी दाखिल कर दिया था। विशेश्वरगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ. उत्कर्ष मिश्रा ने बताया कि विपिन मिश्रा व भाई पवन मिश्रा (३१) कोरोना पॉजिटिव थे। सोमवार को दोनों की हालत खराब हुई तो उन्हें सीएचसी लाया गया।

लेकिन ऑक्सीजन दर काफी कम हो गया। इस पर मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। पहले छोटे भाई पवन मिश्रा की मौत हुई। इसके बाद मेडिकल कालेज में अधिवक्ता विपिन मिश्रा की मौत हो गई। सगे भाईयों की मौत से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। आपको बताते चले कि पिछले 24 घंटों के दौरान देश में 259,170 नए मामले सामने आए हैं।

Shweta

Shweta

Next Story