Top

अयोध्या में कोविड सैम्पलिंग निरीक्षण, ग्रामीण तक कैंप लगाकर जांच शुरू

नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चक्रतीर्थ में हो रहे कोविड सैम्पलिंग कार्य का निरीक्षण कर सैम्पलिंग के स्थिति की जानकारी ली गई।

NathBux Singh

NathBux SinghReporter NathBux SinghShwetaPublished By Shweta

Published on 12 May 2021 4:29 PM GMT

निरीक्षण करते अधिकारी
X

निरीक्षण करते अधिकारी 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अयोध्याः नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चक्रतीर्थ में हो रहे कोविड सैम्पलिंग(covid sampling) कार्य का निरीक्षण कर सैम्पलिंग के स्थिति की जानकारी ली गई। और सैम्पलिंग टीम के समस्त सदस्यों को कोविड-19 से बचाव संबंधी समस्त दिशा निर्देशों का अनुपालन करते हुए व स्वयं को सुरक्षित रखते हुए सैम्पलिंग का कार्य संचालित कराने के निर्देश जिला अधिकारी अनुज कुमार झा द्वारा दिए गए। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा नगर क्षेत्र में अन्य कोविड सैम्पलिंग टीमों द्वारा किये जा रहे कार्यों का स्थलीय निरीक्षण कर स्थिति का जायजा लिया उनके साथ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडे व सीएमओ घनश्याम सिंह सहित अन्य अधिकारीगण थे।

बता दें कि जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडेय, मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती अनीता यादव, मुख्य राजस्व अधिकारी पीडी गुप्ता, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ घनश्याम सिंह आदि की उपस्थिति में इंटीग्रेटेड कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेंटर में कोविड-19 की रोकथाम हेतु किये जा रहे टेस्टिंग, ट्रेसिंग एवं ट्रीटमेंट संबंधी कार्यों की समीक्षा की। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने विकास खण्ड वार रैपिड रिस्पॉन्स टीमों के साथ टेस्टिंग टीमों को लगाकर निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर पहचाने गए लक्षण युक्त व्यक्तियों की कोविड जांच आज से ही प्रारंभ कर शीघ्रातिशीघ्र पुराने व नए समस्त लक्षणयुक्त व्यक्तियों की जांच पूर्ण करने व सभी को मेडिसिन किट उपलब्ध कराने के साथ ही आवश्यकतानुसार चिकित्सीय सुविधाएं व परामर्श उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने ग्रामीण इलाकों में दुकानदारों व दूध वालों के भी कोविड जांच कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने समस्त निगरानी समितियों/आशा संगिनियों को पर्याप्त संख्या में मेडिसिन किट उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए जिससे गांव में किसी में भी कोविड के लक्षण प्रतित होने पर आशा द्वारा तत्काल उसे किट उपलब्ध कराई जा सके। इसी के साथ ही समस्त उपजिलाधिकारियों, खंड विकास अधिकारियों व बाल विकास परियोजना अधिकारियों को भी पर्याप्त संख्या में मेडिसिन किट उपलब्ध कराने को कहा जो गांव में भ्रमण के दौरान लक्षण युक्त व्यक्तियों को किट उपलब्ध कराएंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में किसी व्यक्ति में कोविड के लक्षण प्रदर्शित होने तत्काल उसे मेडिसिन किट उपलब्ध कराएं, उसकी जांच रिपोर्ट आने का इंतजार न करें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने जनपद में कोविड के टीकाकरण की स्थिति की भी समीक्षा की तथा इसमें प्रगति लाने के निर्देश दिए।

निरीक्षण करते अधिकारी

इन अधिकारियों ने राजर्षि दशरथ स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय/कोविड एल-2 चिकित्सालय दर्शन नगर का भ्रमण कर चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को उपलब्ध कराए जा रहे चिकित्सीय सुविधाओं, ऑक्सीजन व अन्य चिकित्सीय व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने प्राचार्य डॉ विजय कुमार व मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ अरविंद कुमार सिंह को भर्ती मरीजों को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराते हुए बेहतर इलाज की व्यवस्था उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने चिकित्सालय के कोविड प्रभारी डॉ अरविंद कुमार को चिकित्सकों द्वारा सभी वार्डों का भ्रमण कर प्रत्येक भर्ती मरीज को नियमित स्वास्थ्य परीक्षण सुनिश्चित कर बेहतर इलाज प्रदान करने के निर्देश दिए। इस दौरान उक्त अधिकारियों द्वारा चिकित्सालय में पाइप लाइन द्वारा ऑक्सीजन सप्लाई हेतु लगाए गए उपकरणों का भी जायजा लिया तथा प्राचार्य को इसका शत-प्रतिशत प्रयोग करते हुए अधिक से अधिक मरीजों को इससे लाभान्वित करने के निर्देश दिए।

Shweta

Shweta

Next Story