Top

कोरोना कंट्रोल के लिए बड़ा कदमः इतने लोगों का हुआ वैक्सीनेशन

प्रदेश में 45 वर्ष सेे अधिक आयु वालों का कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है। कोरोना का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा है।

Shreedhar Agnihotri

Shreedhar AgnihotriWritten By Shreedhar AgnihotriShraddhaPublished By Shraddha

Published on 8 April 2021 3:49 PM GMT

कोरोना कंट्रोल के लिए बड़ा कदमः इतने लोगों का हुआ वैक्सीनेशन
X

photos (social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: प्रदेश में 45 वर्ष सेे अधिक आयु वालों का कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है। बावजूद इसके कोरोना का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अब तक 66,88,260 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 11,79,437 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गयी हैं। इस प्रकार कुल 78,67,697 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में संक्रमण रोकने के लिए आज 2,04,878 कोविड-19 के टेस्ट किये गये है।

अमित मोहन प्रसाद ने दी यह जानकारी

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में बड़ी संख्या में टेस्टिंग का कार्य किया जा रहा है। गत एक दिन में कुल 2,04,878 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 3,61,47,340 सैम्पल की जांच की गयी है। विभिन्न जनपदों से कोविड-19 के 85,930 सैम्पल भेजे गये है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 8,490 नये मामले आये हैं, जिसमें 50 प्रतिशत से अधिक कोविड केस जनपद लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर नगर से आये है।

कोरोना के बढ़ते आंकड़े

प्रदेश में 39,338 कोरोना के एक्टिव मामले में से 22,904 लोग होम आइसोलेशन में हैं। निजी चिकित्सालयों में 770 मरीज अपना इलाज करा रहे है तथा शेष मरीज सरकारी चिकित्सालयों में निःशुल्क इलाज भी करा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 6,06,063 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,93,343 क्षेत्रों में 5,21,397 टीम दिवस के माध्यम से 3,18,44,028 घरों के 15,44,63,517 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है।

photos (social media)

प्रसाद ने बताया कि कोविड संक्रमण नियंत्रित करने के लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम निगरानी समिति, मोहल्ला निगरानी समिति को पुनः सक्रिय किया गया है। इन समितियों के माध्यम से संक्रमण वाले प्रदेशों से आने वाले लोगों की पहचान कर, उनसे संक्रमण की जानकारी लेते हुए आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने दी यह जानकारी

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव 'सूचना' नवनीत सहगल ने बताया कि जनपद लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गोरखपुर, मेरठ, गौतमबुद्धनगर, झांसी, बरेली, गाजियाबाद, आगरा, सहारनपुर तथा मुरादाबाद के जिलाधिकारियों से कोविड-19 के उपचार के सम्बन्ध में है। उन्होंने कहा है कि जिन जनपदों में कोविड-19 के प्रतिदिन 100 से अधिक मामले आ रहे हैं अथवा 500 से ज्यादा एक्टिव केस हैं। सहगल ने बताया कि सर्विलांस अभियान के अन्तर्गत प्रदेश की 24 करोड़ जनसंख्या में से लगभग 19 करोड़ लोगों तक पहुंच कर उनका हालचाल जाना गया है।

अगले सप्ताह से सरकारी एवं निजी प्रतिष्ठानों में वैक्सीनेशन का कार्य किया जायेगा

प्रसाद ने बताया कि आज फोकस वैक्सीनेशन के तहत मीडिया बंधुओं को वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अगले सप्ताह से सरकारी एवं निजी प्रतिष्ठानों में वैक्सीनेशन का कार्य किया जायेगा। कोविड संक्रमण को देखते हुए अत्यधिक सावधान रहना जरूरी है। मास्क का प्रयोग समाज के प्रति जिम्मेदारी व सामाजिक उत्तरदायित्व का पालन है।

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shraddha

Shraddha

Next Story