Top

मथुरा में लगातार बढ़ रहा फिल्मों की शूटिंग का क्रेज, अब बन रही ये फिल्म

पुरुषप्रधान समाज मे नारी प्रताड़ना और तिरस्कार सामाजिक व्यवस्था का अंग बन चुका है। जब नारी इसे अपनी अपनी नियति मानकर शोषण का शिकार होती है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 5 March 2021 6:46 AM GMT

मथुरा में लगातार बढ़ रहा फिल्मों की शूटिंग का क्रेज, अब बन रही ये फिल्म
X
मथुरा में लगातार बढ़ रहा फिल्मों की शूटिंग का क्रेज, अब बन रही ये फिल्म (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मथुरा: ब्रज भूमि बॉलीवुड की पसंद बनती जा रही है। यहाँ पिछले कुछ वर्षों में बड़े बैनर की फ़िल्म बनी हैं । एक बार फिर यहाँ माया मूवी के बैनर तले फ़िल्म नार का सुर का फिल्मांकन यहाँ किया जाएगा। नारी सशक्तिकरण को लेकर फ़िल्म नार का सुर के फिल्मांकन शुरू होने से पूर्व आयोजित पत्रकार वार्ता में लेखक, निर्देशक और कलाकारों ने फ़िल्म के बारे में जानकारी दी। कान्हा की नगरी में लगातार फिल्मों की हो रही शूटिंग के बाद से युवाओं में भी जोश है ।

ये भी पढ़ें:अशोक गहलोत का पत्रकारों को तोहफा, पेंशन और मेडिक्लेम की राशि में इजाफा

व्यवस्था सामाजिक रूप से और अधिक मजबूत हो जाती है

पुरुषप्रधान समाज मे नारी प्रताड़ना और तिरस्कार सामाजिक व्यवस्था का अंग बन चुका है। जब नारी इसे अपनी अपनी नियति मानकर शोषण का शिकार होती है। तो यह व्यवस्था सामाजिक रूप से और अधिक मजबूत हो जाती है। लेकिन जब यही नारी अस्मिता, सोच और अधिकारों का हनन करने वाले पुरुष प्रधान समाज को अपनी शक्ति का एहसास कराती है। तो समाज का वह तबका अचंभित रह जाता है। जो नारी को अपने से तुच्छ मानता है। भारतीय संस्कृति में नारी को पुरुषों से अधिक महत्ता दी गयी है। सनातन संस्कृति ने सदैव लक्ष्मी,दुर्गा,सरस्वती को पूज्यनीय बताया है।

नारी की शक्ति हमारी संस्कृति का हिस्सा है

नारी की शक्ति हमारी संस्कृति का हिस्सा है। सिर्फ हमे यह समझने की आवश्यकता है। कुछ ऐसी ही सामाजिक व्यवस्था को रेखांकित करती है फ़िल्म नार का सुर । यह फ़िल्म सिर्फ मनोरंजन की विषयवस्तु नही बल्कि एक सन्देश है। जिसे समाज के हर व्यक्ति तक हमे पहुंचाना है। स्टेप बाई स्टेप हॉस्पिटलिटी ने माया मूवीज के सहयोग से इस महिला सशक्तिकरण के सामाजिक सन्देश को एक फ़िल्म के माध्यम से जनजन तक पहुंचाने का बीड़ा उठाया है। प्रख्यात निर्देशक कुलदीप कौशिक के निर्देशन में निर्मित इस फ़िल्म की पृष्ठभूमि ग्रामीण अंचल में महिलाओं की स्थिति को दर्शाती है।

फ़िल्म का कथानक आम कहानी से अलग हटकर है

फ़िल्म का कथानक आम कहानी से अलग हटकर है। लेकिन हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा भी है। कुछ ऐसे ही छुए अनछुए बिन्दूओं को यह कहानी बयाँ करेगी। यह सामाजिक कुरीतियों के अनचाहे बोझ से दबी उन महिलाओं की कहानी है जो अपने परिवार, जमीन व अधिकारों को बचाने के लिये संघर्ष की उस चुनोती को स्वीकार कर लेती है। जिससे पुरुष प्रधान समाज के खोखले अहंकार को आइना दिखाया जाता है।

अन्य किरदारों के अलावा कुछ ऐसी शख्सियत को जोड़ा जा रहा है

निर्देशक कुलदीप कौशिक ने बताया कि फ़िल्म में अन्य किरदारों के अलावा कुछ ऐसी शख्सियत को जोड़ा जा रहा है। जो रील लाइफ में नही बल्कि रियल लाइफ में महिला सशक्तिकरण का सर्वोत्तम उदारहण है।जिन्होंने अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से शोषण के खिलाफ आवाज बुलंद करके पीड़ित महिलाओं के लिये प्रेरक बनने का कार्य किया है। उन्होंने बताया कि फ़िल्म की खासियत है कि इसमें कोई भी नामचीन कलाकार को नही लिया गया है।बल्कि रंगमंच के ऐसे कलाकारों को मौका दिया जा रहा है जो समाज की वास्तविक स्थिति से परिचित है।

ब्रज में श्री राधा के बाद श्री कृष्ण का नाम लिया जाता है

फ़िल्म के लेखक कुलदीप कौशिक ने बताया कि इस फ़िल्म की ब्रज के ग्रामीण अंचलों में शूटिंग किये जाने के पीछे उद्देश्य यह है कि ब्रज में श्री राधा के बाद श्री कृष्ण का नाम लिया जाता है। यहां महिलाओं को सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। यहां की पवित्र भूमि से दिया गया सन्देश पूरे देश को प्रभावित करेगा।

ये भी पढ़ें:भीषण विमान हादसा: सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश, 11 सैनिकों की मौत कई घायल

कुलदीप कौशिक ( लेखक, निर्देशक)

कौशिक ने उत्तर प्रदेश को फ़िल्म इंडस्ट्रीज के लिये नये अवसर प्रदान करने के लिये प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का विशेष आभार जताते हुए कहा कि यह मुख्यमंत्री जी की दूरदर्शी सोच को दर्शाता है।इससे प्रदेश में रोजगार व पर्यटन के नये अवसर पैदा होंगे।साथ ही यहां कि बहुमुखी प्रतिभाओं को मौका मिलेगा। उन्होंने स्थानीय प्रशासन का भी हर सम्भव सहयोग के लिये आभार जताया। वहीं फ़िल्म अभिनेत्री मन्नत ने बताया कि उन्हें ब्रज आ कर बहुत अच्छा लगा। वहीं फ़िल्म में विलेन की भूमिका निभा रहे ललित ने बताया कि महिलाओं का सशक्तिकरण , महिलाओं की एकता इस फ़िल्म की कहानी है ।

रिपोर्ट- नितिन कुमार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story