Top

पेट्रोल से हुआ अंतिम संस्कार, वीडियो वायरल होने पर पांच पुलिसकर्मी निलंबित

नदी किनारे मिले शव को टायर व पेट्रोल से अंतिम संस्कार करने का मामला, दिये गये जांच के आदेश

Anoop Hemkar

Anoop HemkarReporter Anoop HemkarPallavi SrivastavaPublished By Pallavi Srivastava

Published on 18 May 2021 9:27 AM GMT

पेट्रोल से हुआ अंतिम संस्कार, वीडियो वायरल होने पर पांच पुलिसकर्मी निलंबित
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बलिया। बलिया(Baliya) जिले के फेफना(Fefana) थाना क्षेत्र के माल्देपुर ग्राम में गंगा नदी(Ganga river) के किनारे पुलिस कर्मियों की मौजूदगी में टायर व पेट्रोल का सहारा लेकर नदी से मिले एक शव का अंतिम संस्कार करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कथित झाटना के बाद पुलिस अधीक्षक ने संवेदनहीनता बरतने के दोषी पांच पुलिस कर्मियों को निलंबित कर प्रकरण की जांच के आदेश दे दिए हैं ।

बता दें कि पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन ताडा ने आज बताया कि सोमवार शाम सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें पुलिस कर्मी गलत तरीके से एक शव का अंतिम संस्कार करा रहे हैं। पुलिस कर्मियों ने अंतिम संस्कार में संवेदनहीनता बरती है। इस मामले में दोषी पांच पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है तथा प्रकरण की जांच के आदेश दिए भी दे दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक संजय यादव मामले की पूरी जांच कर मामले से संबंधित रिपोर्ट देंगे।


unclaimed dead body cremation

पांच पुलिसकर्मी निलंबित

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस प्रकरण में फेफना थाना के पांच पुलिस कर्मियों जय सिंह, उमेश प्रजापति, वीरेंद्र यादव, पुनीत पाल व जय सिंह चैहान को निलंबित किया गया है। फेफना थाना के प्रभारी संजय त्रिपाठी ने बताया कि फेफना थाना क्षेत्र के माल्देपुर ग्राम में गंगा नदी के तट पर मिले एक शव का विगत 15 मई को अंतिम संस्कार किया गया था। अंतिम संस्कार करते समय डोम ने टायर रख दिया तथा पेट्रोल डाल दिया। सोशल मीडिया पर कल वायरल वीडियो में पुलिस कर्मियों की मौजूदगी में टायर व पेट्रोल का सहारा लेकर एक शव का अंतिम संस्कार करते दिखाई दे रहा है। विडियो के सोशल मीडिया पर पोस्ट होते ही तेजी से वायरल हो गया और सोशल मिडिया पर लोगों द्धारा पुलिस पर तीखे कमेंट भी आने लगे जिसके बाद मामले में लिप्त पांचों पुलिसकर्मीयों को निलंबित कर दिया गया। पुलिस प्रशासन ने जल्दबाजी में आकर आदेश का पालन करने के चक्कर में लाशों को टायर व पेट्रोल डालकर जलवा दिया जो कि गलत है। बलिया पुलिस के इस संवेदनहीन कार्य को सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर जमकर ट्रोल किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो के बाद पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन ताड़ा ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए तत्काल कार्रवाई की है।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story