Top

दलित छात्र की आत्महत्या मामले ने पकड़ा तूल, दलित संगठनों का प्रदर्शन

Admin

AdminBy Admin

Published on 11 March 2016 11:42 AM GMT

दलित छात्र की आत्महत्या मामले ने पकड़ा तूल, दलित संगठनों का प्रदर्शन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शाहजहांपुर: दलित प्रशिक्षु की आत्महत्या का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। ज्ञात हो कि शिक्षक ने डाइट में दलित प्रशिक्षु की बेरहमी से पिटाई कर दी थी जिससे उसने आत्महत्या कर ली थी। आरोपी टीचर की गिरफ्तारी न होने से नाराज तमाम दलित संगठनों ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया।

दलित संगठनों का प्रदर्शन

-दलित समाज के सैकड़ों लोगों ने शहर में रैली निकाली और कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया।

-पुलिस और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

-पुलिस को चेतावनी दी, कि जल्द ही आरोपी टीचर की गिरफ्तारी नहीं हुई तो परिवार सहित दलित समाज के लोग धरने पर बैठ जाएंगे।

dalit--5

कौन था छात्र ?

-शाहजहांपुर की डाइट (जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान) में थाना खुटार कस्बे का दलित प्रशिक्षु राजन कुमार गौरव रहता था।

-वह बीटीसी-2013 के चौथे सेमेस्टर का छात्र था।

मृतक छात्र (फाइल फोटो) मृतक छात्र (फाइल फोटो)

मृतक के परिजनों का आरोप:

-मृतक की मां का आरोप है कि डाइट टीचर सुशील बाबू मिश्रा आए दिन उसके बेटे के साथ जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल किया करते थे।

-इस वजह से छात्र मानसिक तौर पर परेशान रहता था।

-कुछ समय पहले आरोपी टीचर ने उसके बेटे की अन्य प्रशिक्षुओं के सामने पिटाई की थी।

-3 मार्च को डाइट के दबंग टीचर सुशील बाबू ने राजन को शारीरिक और मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया।

-प्रताड़ना से तंग छात्र ने आत्महत्या कर ली।

आरोपी शिक्षक (फाइल फोटो) आरोपी शिक्षक (फाइल फोटो)

पुलिस पर भी गंभीर आरोप

-घटना के बाद पुलिस के पहुंचने से पहले ही आरोपी टीचर ने सहयोगियों के साथ मृतक छात्र का अंतिम संस्कार करवा दिया।

-इस मामले में आरोपी टीचर के खिलाफ केस दर्ज करवाया गया है। लेकिन पुलिस आरोपी टीचर को बचाने में जुटी है।

Admin

Admin

Next Story