Top

दयाशंकर सिंह को मऊ कोर्ट से जमानत, BSP हाईकोर्ट में देगी चुनौती

बीएसपी सुप्रीमो मायावती को अपशब्द कहने के आरोपी पूर्व बीजेपी नेता दयाशंकर सिंह को मऊ कोर्ट से जमानत मिल गई है। एडीजे-4 कोर्ट ने 50-50 हजार रुपए के मुचलके पर जमानत दी है।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 6 Aug 2016 11:11 AM GMT

दयाशंकर सिंह को मऊ कोर्ट से जमानत, BSP हाईकोर्ट में देगी चुनौती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मऊ: बीएसपी सुप्रीमो मायावती को अपशब्द कहने के आरोपी पूर्व बीजेपी नेता दयाशंकर सिंह को शनिवार को मऊ कोर्ट से जमानत मिल गई है। अपर सत्र न्यायालय (चतुर्थ) एडीजे-4 कोर्ट ने 50-50 हजार रुपए के निजी मुचलके पर जमानत दी है।

इस पर बसपा महासचिव सतीश मिश्र ने कहा कि जमानत का आदेश विधि सम्मत नहीं हैं। उन्होंने कहा कि बसपा मऊ की अधीनस्थ अदालत को हाईकोर्ट में चुनौती देंगी। पार्टी मऊ की अधीनस्थ अदालत के इस जमानत फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट जाएगी।

बता दें, कि दयाशंकर सिंह को 29 जुलाई को यूपी एसटीएफ ने बिहार के बक्सर जिले के मॉडल थाना क्षेत्र के एक मकान से अरेस्ट किया था। जिसके बाद कोर्ट ने दयाशंकर सिंह को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था।

पुलिस की कार्रवाई पर उठाए सवाल

मऊ कोर्ट से जमानत मिलने पर दयाशंकर सिंह के साथ-साथ उनके परिवार ने भी राहत की सांस ली है। Newstrack से बात करते हुए दयाशंकर की पत्नी स्वाति सिंह ने कहा कि हम कोर्ट के इस फैसले का सम्मान करते हैं, लेकिन फिर भी अभी हमें पूरी तरह से न्याय नहीं मिला है। बसपा के बड़े नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर कार्रवाई न होने से नाराज स्वाति सिंह ने पुलिसिया कार्रवाई पर भी सवाल खड़े किए हैं।

बसपा नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा दयाशंकर सिंह की पति और बेटी के खिलाफ की गई अभद्र टिप्पणी से आहत दयाशंकर की पत्नी स्वाति सिंह ने नसीमुद्दीन समेत कई बसपा नेताओ पर पॉस्को एक्ट के तहत कार्रवाई की मांग की थी, लेकिन साक्ष्यों के अभाव में नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर कोई कार्रवाई नही हुई।

डीएम और आला अधिकारीयों पर लगाए आरोप

स्वाति सिंह ने पुलिस के आला अधिकारियो के साथ-साथ लखनऊ के डीएम पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि वह अधिकारियों को सबूत के तौर पर सीडी सौंप चुकी हैं, फिर भी पुलिस ने अभी तक बसपा नेता नसीमुद्दीन के खिलाफ कोई भी कार्रवाई नहीं की है।

स्वाति सिंह ने यह भी आरोप लगाया कि बसपा नेताओं द्वारा उनके परिवार की महिलाओं को अपशब्द कहते समय कई आला अधिकारी मौजूद थे, फिर भी कार्रवाई करने के बजाय पुलिस नसीमुद्दीन को बचाने में जुटी है।

क्या था पूरा मामला ?

-बीजेपी नेता दयाशंकर सिंह ने मऊ में मीडियाकर्मियों से बातचीत में बसपा सुप्रीमो मायावती पर अभद्र टिप्पणी की थी।

-दयाशंकर सिंह ने मायावती पर करोड़ों रुपए देने वालों को पार्टी का चुनाव टिकट बेचने का आरोप लगाया था।

-यह मामला तूल पकड़ने पर दयाशंकर ने माफी भी मांग ली थी।

-हालांकि बीजेपी ने दयाशंकर सिंह को पार्टी से भी छह साल के लिए निकाल दिया था।

यह भी पढ़ें ... अभद्र नारेबाजी: नसीमुद्दीन सिद्दीकी समेत कई बसपा नेताओं पर लगा POCSO

-इस घटना के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती और बसपा कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए।

-बसपा कार्यकर्ताओं ने लखनऊ समेत कई जिलों में बड़ा विरोध प्रदर्शन किया।

-लखनऊ के हजरतगंज इलाके में हुए प्रदर्शन के दौरान बसपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने दयाशंकर सिंह की बेटी और पत्नी स्वाति पर भी अभद्र टिप्पणी की।

यह भी पढ़ें ... माया के अपमान पर सड़कों पर उतरी BSP, दयाशंकर की गिरफ्तारी की मांग

-बसपा कार्यकर्ताओं और नेताओं द्वारा दयाशंकर की पत्नी और बेटी पर अभद्र टिप्पणी करने पर गुस्साए बीजेपी कार्यकर्ताओं ने भी बसपा के खिलाफ बड़ा विरोध प्रदर्शन किया।

-जिसके बाद बीजेपी और बसपा नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई गई।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story