×

खुशियों को लग गयी नजर-खुशनुमा माहौल में चीखपुकार, फिर दूल्हे का ये हुआ हाल

यूपी के शाहजहांपुर में धूमधाम से बारात आई। दूल्हा दुल्हन ने सात फेरे लिए मां बाप ने आशिर्वाद दिया।लेकिन विदाई से पहले दोनों ही परिवारों मे कोहराम मच गया।क्योंकि दुल्हन के सीने मे दर्द उठने से दुल्हन ने विदाई से पहले दुनिया को अलविदा कह दिया।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 29 Jan 2019 2:46 PM GMT

खुशियों को लग गयी नजर-खुशनुमा माहौल में चीखपुकार, फिर दूल्हे का ये हुआ हाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: यूपी के शाहजहांपुर में धूमधाम से बारात आई। दूल्हा दुल्हन ने सात फेरे लिए मां बाप ने आशिर्वाद दिया।लेकिन विदाई से पहले दोनों ही परिवारों मे कोहराम मच गया।क्योंकि दुल्हन के सीने मे दर्द उठने से दुल्हन ने विदाई से पहले दुनिया को अलविदा कह दिया।जहां बड़ी धूमधाम से दोनों परिवार खुशियाँ मना रहे थे। वहीं कुछ ही देर बाद मैरिज हॉल से सिर्फ चीखपुकार की आवाजें आ रही है। विदाई से पहले दुल्हन की मौत से पिता और दूल्हा बिल्कुल टूट चुका था। दुल्हन की चिता को मुखाग्नि दुल्हन के पिता ने दी।दुल्हन बनी युवती की मैरिज हॉल से अर्थी उठी तो देखने वालों के आंसुओं ने सबको झकझोर कर रख दिया।

यह भी पढ़ें.....यहां बारात के साथ दुल्हन की हुई ऐसी एंट्री, मायके-ससुराल सब थे उसके साथ

खुशनुमा माहौल में सभी रस्में हुयी अदा

थाना आरसी मिशन के मोहल्ला नई बस्ती निवासी दिनेश कुमार ने अपनी बेटी शिवानी की शादी अपनी बहन के बेटे विनीत से तय की थी। दूल्हा विनीत फतेहपुर पूर्वी का रहने वाला है। सोमवार की रात विनीत बड़ी धूमधाम से बारात लेकर दुल्हन को लेकर मेरिज हाल पहुंचा था। शादी में दोनों ओर के मेहमानों ने खाना खाया और सभी ने खुशनुमा माहौल में सभी रस्में भी अदा की। उसके बाद दुल्हन और दूल्हा अपने अपने कमरे में आराम करने के लिए पहुंचे थे। दुल्हा दुल्हन ने साथ जीने मरने कि कसमें खायी और सात फेरे भी लिए थे। लेकिन सुबह में अचानक मैरिज हॉल में खबर फैली कि दुल्हन की मौत हो गई। जिससे शादी में आए मेहमानों में हङकंप मच गया।

इधर खबर सुनते ही दूल्हा भी सदमे में चला गया। लेकिन कुछ देर बाद साफ हो गया कि दुल्हन के सीने मे अचानक दर्द उठ था और डॉक्टर को भी बुलाया गया था। लेकिन तब तक दुल्हन दुनिया को अलविदा कह चुकी थी।

यह भी पढ़ें.....ये बारात खास है मेरे दोस्त, क्योंकि पन्नी रानी बनी दुल्हनिया तो दूल्हा कचरा लाल

पिता ने दी मुखाग्नि

मैरिज हॉल से दुल्हन की डोली नहीं बल्कि अर्थी उठी। ये देखकर सभी के आंखों मे आंसू थे और बेटी को मुखाग्नि पिता ने दी। दुल्हन की मां की दो साल पहले बिमारी के चलते मौत हो चुकी है। उसके बाद अब पिता इकलौती बेटी भी दुनिया से जा चुकी है। पिता बेटी की मौत से पूरी तरह टूट चुका है। फिलहाल बगैर दुल्हन के मायूस होकर दूल्हा वापस अपने घर लौट गया।

यह भी पढ़ें.....दुल्हन पक्ष ने बारातियों को 2 घंटे बनाये रखा बंधक, खाली हाथ लौटी बारात, ये है मामला

वहीं मृतका के पिता का कहना है कि दो साल पहले पत्नी की बिमारी के चलते मौत हो गई थी। तब से बेटी काफी परेशान रहती थी। हमने अपनी बहन के बेटे से शादी तय की थी। लेकिन विदाई से पहले ही मेरी बेटी ने दुनिया को छोड़ दिया।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story