Top

पानी की तलाश में पहले जंगली हाथी और अब हिरण ने गंवाई जान

Admin

AdminBy Admin

Published on 22 April 2016 7:15 AM GMT

पानी की तलाश में पहले जंगली हाथी और अब हिरण ने गंवाई जान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बलरामपुर: उत्तर प्रदेश के दर्जनों जिले पानी के संकट से जूझ रहे हैं। इंसान को पीने के लिए पानी नहीं मिल पा रहा है, तो वहीं जानवर भी अब बिना पानी के तड़प-तड़प कर दम तोड़ रहे हैं। ऐसा ही कुछ जिले के सोहेलवा वन क्षेत्र में देखने को मिला। जब जंगल से भटक कर पानी की तलाश में भोजपुर संतरी गांव के पूरब भांभर नाला के पास भटकता हुआ ग्रामीणों को मिला।

प्यास से बेसुध हालत में घूम रहे इस हिरन को ग्रामीणों ने पानी पिलाया। पानी पीने के कुछ घंटे बाद ही हिरण ने दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी पुलिस व वन विभाग के अधिकारियों को दी गई। लेकिन वह भी अपनी संवेदनहीनता से बाज नहीं आए। घंटों बाद मौके पर पहुंचे। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

क्‍या हुआ मामला

-सोहेलवा वन क्षेत्र अंतर्गत ग्राम भोजपुर संतरी के पूरब तरफ स्थित भांभर नाला के पास से कुछ ग्रामीण गुजर रहे थे।

-ग्रामीणों ने बदहवास हालत में एक हिरण को वहां भटकते हुए देखा।

-हिरण की हालत देख कर उसे भोजपुर चौराहे पर लाकर पानी पिलाया।

-ग्रामीणों के मुताबिक हिरण पानी की तलाश में जंगल से निकलकर आबादी की तरफ आ रहा था।

jghjty

-वह शारीरिक रूप से बेहद कमजोर नजर आ रहा था।

-ग्रामीणों ने बताया कि उन लोगों ने हिरण को पानी पिलाया।

-लेकिन कुछ घंटे बाद ही उसने दम तोड़ दिया।

पुलिस ने नहीं दिया ध्‍यान

-इस संबंध में कोतवाली इस संबंध में पुलिस व वन विभाग के अधिकारियों को सूचना दी गई।

-लेकिन जानकारी होने के बावजूद भी घंटों बाद पहुंचे।

-तब तक हिरण ने दम तोड़ दिया था।

-इस मौत का जिम्मेदार कौन है? यह एक बड़ा सवाल है।

-फिलहाल वन क्षेत्राधिकारी तुलसीपुर यूनिट शिवकुमार त्रिपाठी मौके पर पहुंचे।

-हिरण के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जंगली हाथी की भी हो चुकी है मौत

-मामला तुलसीपुर थाना क्षेत्र के नैकिनियां गांव का था।

-जहां कुछ दिन पहले पानी की तलाश में जंगली हाथी का जोड़ा निर्माणाधीन सरयू कैनाल के पास पहुंचा गया था।

-पास से ही गुजर रही हाईटेन्शन लाइन बेहद लचीली व नीचे थी।

-जिसके बदलने के क्रम में नए पोल भी लगाये गए थे।

vzxv

-लेकिन नए पोल में तारों को डिसप्‍लेस करने से पहले ही विभागीय कर्मचारियों ने लाइन शुरू कर दी।

-जंगल से पानी की तलाश में कैनाल नहर के करीब पानी की तलाश में आए।

-हाथी जोड़े में नर हाथी हाइटेंशन लाइन की चपेट में आ गया।

-जिससे हाथी की दर्दनाक मौत हो गई।

hfhf

Admin

Admin

Next Story