×

शहीदों के सम्मान में योगी सरकार करने जा रही ये काम, हर तरफ हो रही तारीफ

सरकार  देश की रक्षा करते हुये शहीद होने वाले वीर जवानों के नाम से ‘‘जय हिन्द वीरपथ योजना’’ के तहत शहीदों के घरों गावों तक सड़कों का निर्माण  कराएगी।    

Suman  Mishra | Astrologer
Updated on: 4 Sep 2020 3:22 PM GMT
शहीदों के सम्मान में योगी सरकार करने जा रही ये काम, हर तरफ हो रही तारीफ
X
सरकार  देश की रक्षा करते हुये शहीद होने वाले वीर जवानों के नाम से ‘‘जय हिन्द वीरपथ योजना’’ के तहत शहीदों के घरों गावों तक सड़कों का निर्माण  कराएगी।    
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ : उत्तर प्रदेश सरकार पहली बार ऐसा रही है जिसकी सराहना अभी से हो रही है। सरकार देश की रक्षा करते हुये शहीद होने वाले वीर जवानों के नाम से ‘‘जय हिन्द वीरपथ योजना’’ के तहत शहीदों के घरों गावों तक सड़कों का निर्माण कराएगी।

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि जहां भी मार्गों के अनुरक्षण की आवश्यकता है, तत्काल अनुरक्षण किया जाना सुनिश्चित किया जाय। इस कार्य में धन की कोई कमी आड़े नहीं आने दी जायेगी। उन्होने कहा कि इंजीनियर्स-डे पर विभाग के उत्कृष्ट व उल्लेखनीय कार्य करने वाले अभियन्ताओं व कर्मचारियों को सम्मानित किया जायेगा। उन्होने कहा कि कार्यों में लापरवाही, व अनियमितता बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को किसी भी दशा में माफ नहीं किया जायेगा।

जयहिन्द वीरपथ मार्ग योजना

उन्होने कहा कि सेना के उन जवानों को, जिन्हे वीर चक्र परमवीर चक्र आदि से सम्मानित किया गया है उन्हे भी जयहिन्द वीरपथ मार्ग योजना के तहत अच्छादित करते हुये उनके गावों तक सड़कें व द्वार बनाये जायेंगे। उन्होने कहा कि यह कार्य कराते समय वहां कि वीडियो फिल्म बनायी जाय और उसका प्रसारण सोशल मीडिया सहित अन्य मीडिया प्लेटफार्मों के जरीये कराया जाय।

राष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों के घर तक सड़कें

उपमुख्यमंत्री मौर्य ने कहा कि जिस तरह से मेजर ध्यानचन्द पथ योजना के तहत राष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों के घरों तक सड़के बनावायी जा रही हैं और उन्हे सम्मानित किया जा रहा है, उसी तरह से डॉ एपीजे अब्दुल कलाम गौरव पथ योजना में सम्बन्धित छात्र एवं छात्राओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाय।

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि जितने भी स्टेट हाईवे घोषित हुये हैं, उनमें यह देख लिया जाय कि यथासम्भव कोई भी जनपद, विधानसभा क्षेत्र एवं लोकसभा क्षेत्र अछूता न रहने पाये, यदि कहीं कोई क्षेत्र छूट रहा है, तो उसका आंकलन करते हुये विकल्प के तौर पर कार्ययोजना बनाई जाय।

पीएमजीएसवाई के तहत लोक निर्माण विभाग द्वारा फेज-3 में 42 जनपदों में होने वाले कार्यों के चर्चा करते हुये मौर्य ने कहा कि इन कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष नजर रखी जाय तथा उन्होने कहा क्रूज मार्ग में पड़ने वाले पीपे के पुलों को हटाया नहीं जायेगा, बल्कि क्रूज के गुजरते समय एक विशेष सिस्टम से पीपे के पुल को स्थान विशेष पर टर्न कर दिया जायेगा और क्रूज गुजरने पर पुनः उसे प्रतिस्थापित कर दिया जायेगा।

प्रदेश में जितने भी पान्टून पुल हैं, इन पर आवागमन की स्थितियों का ब्यौरा भी प्रस्तुत करने के लिए उपमुख्यमंत्री ने कहा। मौर्य ने विश्व बैंक व एशियन डेवलपमेन्ट बैंक से सहायतित योजनाओं के बारे में जानकारी हासिल करते हुये निर्देश दिये कि इसके अगले पैकेज की अभी से तैयारी सुनिश्चित की जाय। उन्होने कहा कि पूरे प्रदेश में संतुलित रूप से सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है, किसी भी क्षेत्र के साथ कोई भेदभाव किसी भी दशा मंे नहीं होने दिया जायेगा। उन्होने कहा कि रू. 40 लाख तक के ठेकों में आरक्षण सम्बन्धी पत्रावली पूरी कर तत्काल प्रस्तुत की जाय।

जिलास्तर से लेकर मुख्यालय स्तर तक

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि प्रत्येक माह कार्यालयों का निरीक्षण अनिवार्य रूप से किया जाय तथा कार्यालय व्यवस्थित रखें जायं, कोविड-19 के तहत कोविड हेल्प डेस्क के साथ-साथ निर्धारित प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय तथा निर्माणाधीन कार्यों का भी लगातार निरीक्षण किया जाय तथा निरीक्षण आख्या ससमय प्रेषित की जाय व निरीक्षण की वीडियो क्लिप भी भेजी जाय। मौर्य ने कहा कि उनके संज्ञान में आया है कि कहीं-कहीं पर मैनपॉवर की अधिकता है, तो कहीं पर स्टाफ की बहुत कमी है।

उन्होने कहा कि मैनपॉवर को संतुलित किया जाय तथा जहां जिसकी आवश्यकता है उसे वहां लगाया जाय। अनावश्यक रूप से एक ही स्थल/पटल पर लम्बे समय तक न रखा जाय। उन्होने कहा कि जहां पर भी विभाग की खाली जमीन हैं, वहां पर वृक्षारोपण किया जाय और विशेष रूप से हर्बल पौधे ही लगाये जायं। श्री मौर्य ने निर्देशे दिये विभाग के राष्ट्रीय मार्ग खण्ड गाजियाबाद के अधिशासी अभियन्ता या किसी अन्य को राष्ट्रीय राजमार्गों के सम्बन्ध में एनएचएआई के साथ समन्वय बनाने तथा समस्याओं के निराकरण हेतु लाइजनिंग आॅफीसर के रूप में तैनाती की जाय।

रिपोर्टर श्रीधर अग्निहोत्री

Suman  Mishra | Astrologer

Suman Mishra | Astrologer

Next Story