Top

लखनऊ में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर डीजीपी नाराज, अफसरों को लगाई फटकार

डीजीपी ने पुलिस को क्राइम इंटेलिजेंस मजबूत करने और गश्त बढ़ाने के निर्देश दिए। ये बैठक करीब 2 घंटे तक चली। उन्होंने चेतावनी दी कि लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों व अफसरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें हटा दिया जाएगा।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 7 Jan 2021 9:14 AM GMT

लखनऊ में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर डीजीपी नाराज, अफसरों को लगाई फटकार
X
बदायूं में गैंगरेप-मर्डर और लखनऊ में दिनदाहड़े हत्या के बाद सूबे की कानून व्यवस्था पर फिर से सवाल उठने लगे हैं। बीते दिनों इस संबंध में डीजीपी ने अफसरों के साथ बैठक भी की थी।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में बढ़ती आपराधिक घटनाओं को देखते हुए आज डीजीपी एचसी अवस्थी ने अफसरों की बैठक बुलाई थी। डीजीपी के अलावा एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार भी इस बैठक में मौजूद थे।

उन्होंने यहां पर पुलिसिंग की समीक्षा की। इस दौरान डीजीपी ने बीते दिनों राजधानी में हुई वारदातों को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने गैंगस्टर अजीत सिंह हत्याकांड के आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी करने निर्देश दिए।

ठाकुरगंज में प्रॉपर्टी डीलर की हत्या, विभूति खंड में रिटायर्ड अधिकारी के घर डकैती, विकास नगर में बद्री सर्राफ के मालिक पर फायरिंग की घटनाओं पर डीजीपी ने अफसरों को कार्रवाई करने का निर्देश देते अधिकारियों से जवाब मांगा।

Pistol पिस्तौल ( फोटो: सोशल मीडिया)

दहल उठा बलिया: युवक की मौत के बाद भड़के ग्रामीण, 5 पुलिस कर्मी घायल

इन अफसरों को किया गया तलब

बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस कमिश्नर के साथ, ज्वाइंट सीपी क्राइम नीलाब्जा चौधरी, ज्वाइंट सीपी लॉ एंड आर्डर नवीन अरोड़ा तलब किए गए हैं।

डीजीपी ने पुलिस को क्राइम इंटेलिजेंस मजबूत करने और गश्त बढ़ाने के निर्देश दिए। ये बैठक करीब 2 घंटे तक चली। डीजीपी ने चेतावनी दी कि लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों व अफसरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें हटा दिया जाएगा।

एटा में हत्या का ऐसा तरीका: घर से खींच लाएं आरोपी, फिर गोली मार हुए फरार

विभूतिखंड क्षेत्र में बुधवार रात जमकर हुई थी गोलीबारी

लखनऊ के विभूतिखंड क्षेत्र में बुधवार रात जमकर गोलीबारी हुई थी। बदमाशों ने सरेआम मऊ निवासी अजीत सिंह को निशाना बनाते हुए फायरिंग की थी, जिसमे उनकी मौत हो गई थी। वहीं एक साथ घायल हो गया था।

ये पूरा मामला गैंगवार का है। अजित सिंह बाहुबली मुख्तार अंसारी गैंग का बताया जा रहा है, जिसे 31 दिसंबर 2020 को मऊ जिला मजिस्ट्रेट ने जिला बदर घोषित किया था।

Crime क्राइम सीन ( फोटो: सोशल मीडिया)

मऊ पुलिस ने अजीत सिंह को दो दिन पहले किया था जिला बदर घोषित

दरअसल, उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव से पहले पूर्वांचल गैंगवार का बड़ा मामला लखनऊ में देखने को मिला। यहां आज बाहुबली मुख़्तार अंसारी गैंग के एक गुर्गे को बदमाशों ने बीच सड़क गोलीबारी में ढेर कर दिया। इस घटना के बाद राजधानी में हड़कंप मच गया। वहीं पुलिस के आलाधिकारी तक सकते में आ गए हे।

गोरखपुर की रामगढ़ झीलः 300 करोड़ में हुई साफ, जलकुंभी ने कर लिया कब्जा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story