परिजनों का दर्द छलका डायल 100 आम खाती रही और हो गया इत्ता बड़ा कांड

परिजनों का कहना है कि अगर समय रहते डायल 100 ने तत्परता दिखाई होती तो मृतक की जान बचाई जा सकती थी। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। जानकारी के अनुसार संडिला से आजमगढ़ आम लेकर पिकप से जा रहे  जा रहे व्यवसायी के साथ जगदीशपुर कोतवाली के तेतारपुर के पास घटना घटित हुई। 

अमेठी। संडीला से आम लादकर आ रहे व्यापारी की बदमाशों ने पीट पीट कर मार डाला और मौके से फरार हो गए। परिजनो का आरोप है कि डायल 100 पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन सभी पिकअप से आम निकाल कर खाने में जुट गए।

परिजनों का कहना है कि अगर समय रहते डायल 100 ने तत्परता दिखाई होती तो मृतक की जान बचाई जा सकती थी। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। जानकारी के अनुसार संडिला से आजमगढ़ आम लेकर पिकप से जा रहे  जा रहे व्यवसायी के साथ जगदीशपुर कोतवाली के तेतारपुर के पास घटना घटित हुई।

बीती रात आम से लदा पिकप जगदीशपुर कोतवाली क्षेत्र के तेतारपुर हाईवे के पास पहुंचा था कि पिकप का टायर फट गया। टायर बदलते समय 5 बदमाशों ने तीन फल व्यवसायी को अगवा किया। बदमाश ने पहले तीनो व्यवसायी को जमकर मारपीटा, किसी तरह दो लोगों ने भागकर जान बचाई जान।

एक फल व्यवसायी को बदमाश मौके से उठा ले गए। इसकी सूचना डायल हंड्रेड को दी गई तो मौके पर पहुंच कर बदमाशों को ढूंढने के बजाए आम खाने में जुट गए। घटना से कुछ दूरी पर सड़क किनारे खेत मे आज दोपहर फल व्यवसायी का शव, मिला।

मृतक हरदोई जिले का रहने वाला था। परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया अगर पुलिस रात मे प्रयास करती तो जान बच सकती थी। हम लोग खुद अपने भाई का शव ढूंढ निकाला तब सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।