×

यूपी : डिजिटल मार्केटिंग के जरिए प्राधिकरण बढ़ाएगा निवेश

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 21 Aug 2018 3:36 PM GMT

यूपी : डिजिटल मार्केटिंग के जरिए प्राधिकरण बढ़ाएगा निवेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नोएडा : औद्योगिक विकास के नाम पर बसे शहर में निवेश को बढ़ावा दिया जाएगा। इसके लिए डिजिटल मार्केटिंग का सहारा लिया जाएगा। ताकि कम समय में ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शहर की साफ व निवेश की छवि को पहुंचाया जा सके। बतौर इसके लिए प्राधिकरण एक शार्ट फिल्म का सहारा लेगा। यह फिल्म करीब तैयार हो चुकी है। करीब 5 से 7 मिनट तक की फिल्म में शहर के नए सेक्टर, औद्योगिक इकाईयो, निवेश के नजरिए से उपलब्ध संसाधन व इंफ्रास्ट्रचर को शामिल किया गया है। इसे दो अक्टूबर को आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के अलावा प्राधिकरण के विकासीय कार्यक्रमों के दौरान दिखाया जाएगा।

1975 में शहर का विकास औद्योगिक नगरी के रूप में किया गया था। यहा उद्योग निवेश करे इसी मदेनजर यहा संसाधन में उपलब्ध कराए गए। लेकिन इसका प्रचार प्रसार इतनी तेजी से नहीं हुआ। वर्तमान में यह शहर औद्याेिगक विकास कम बल्कि ग्रुप हाउसिंग की तरफ ज्यादा अग्रसर है। लिहाजा इइसकी छवि को वापस लाने के लिए डिजिटल मीडिया का सहारा लिया जा रहा है। महज सात मिनट में पूरे शहर की छवि को एक शॉर्ट फिल्म में समाहित किया गया है। यह कार्य एक निजि कंपनी द्वारा किया जा रहा है। जिसकी शूटिंग का कार्य सोमवार को समाप्त हो गया। अब इस फिल्म को पर्दे पर उतारने की तैयारी चल रही है। निवेश को बढ़ावा देने के लिए फिल्म का प्रचार प्रसार किया जाएगा।

पहले चरण में इसे मल्टीप्लेक्स, शहर में लगे डिजिटल बोर्ड पर चलाने पर विचार किया जा रहा है। ताकि शहर की बढ़ती समद्धि से लोग वाकिफ हो सके। साथ ही निवेश को बढ़ावा मिल सके। बताते चले इससे पहले लखनऊ में आयोजत हुई इनवेस्टर मीट में प्राधिकरण की और 10 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा निवेश को लेकर एमओयू साइन किए गए थे। इसके साथ ही हाल ही में सैमसंग यूनिट की उद्घाटन व अन्य निवेश शामिल है। इसमे और बढ़ावा किया जाएगा। ताकि शहर को राजस्व मिले और लोगों की सहुलियतों में इजाफा हो सके।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story