×

केवल गंगा यात्रा नहीं बल्कि उद्योग और रोजगार देने वाली यात्रा-दिनेश शर्मा

प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने कहा कि मां गंगा की स्वच्छ, अविरल निर्मल धारा लोगों के जीवन को संवारने का कार्य करती है। डॉ शर्मा ने कहा कि...

Deepak Raj

Deepak RajBy Deepak Raj

Published on 30 Jan 2020 3:43 PM GMT

केवल गंगा यात्रा नहीं बल्कि उद्योग और रोजगार देने वाली यात्रा-दिनेश शर्मा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने कहा कि मां गंगा की स्वच्छ, अविरल निर्मल धारा लोगों के जीवन को संवारने का कार्य करती है। डॉ शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंगा यात्रा को अर्थ से भी जोडा है।

ये भी पढ़ें- विपक्ष ने की है ये मांग, मोदी सरकार ने कहा- हर मुद्दे पर है तैयार, शुरू…

इस यात्रा से मां गंगा की अविरलता, निर्मलता व पवित्रता सुनिश्चित करने के साथ ही ऐसे उपाय भी किए गए हैं। जिससे मां गंगा के किनारे के क्षेत्र में रोजगार के अवसर भी उपलब्ध हों। इससे एक नए प्रकार का वातावरण का सृजन होगा। यह यात्रा केवल गंगा यात्रा नहीं है बल्कि उद्योग और रोजगार देने वाली यात्रा है।

भारत भूमि में ही देवता निवास करते हैं

भारत की संस्कृति को अनूठा बताते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया में देवता अगर कहीं निवास करते हैं तो वह भारत भूमि में ही निवास करते हैं। उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने आज कौशाम्बी में गंगा यात्रा के दौरान आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि विदेश में कहा जाता है कि जिसने जन्म लिया वह कमाएगा तथा जो कमाएगा वह खाएगा।

लेकिन भारत की संस्कृति कहती है जिसने जन्म लिए वह कमाएगा तथा जो कमाएगा वह खिलाएगा। हमारी संस्कृति के अनुसार मनुष्य का जन्म सिर्फ अपने लिए नहीं बल्कि सबके कल्याण के लिए हुआ है। सर्वे भवन्तु सुखिनः हमारी संस्कृति का आधार है जिसका अर्थ है सबके सुख में मेरा सुख।

मां गंगा को स्वच्छ अविरल और निर्मल बनाने का संकल्प लिया है

इसी कारण हमारी संस्कृति विशेष है और यह तब और अधिक विशिष्ट हो जाती है जब मां गंगा का वर्णन किया जाता है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि भागीरथ तपस्या करके मां गंगा को लोगों के कल्याण के लिए पृथ्वी पर लेकर आए थे। आज देश के प्रधानमंत्री ने मां गंगा को स्वच्छ अविरल और निर्मल बनाने का संकल्प लिया है।

प्रधानमंत्री के संकल्प को पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तमाम प्रकार के उपाय आरंभ किए है। सरकार का लक्ष्य है कि मां गंगा की अविरलता और निर्मलता को हर हाल में सुनिश्चित किया जाए और इसके लिए गंगा यात्रा का आयोजन किया गया है।

गंगा यात्रा दो स्थानों बलिया और बिजनौर से आरंभ हुई है

गंगा यात्रा दो स्थानों बलिया और बिजनौर से आरंभ हुई है जिसका समापन कानपुर में होगा। यह सौभाग्य का विषय है कि इस यात्रा को हस्तिनापुर से लेकर चलने का अवसर मिला है। डॉ शर्मा ने कहा कि इसके पूर्व भी कई बार अलग अलग यात्राओं में शामिल होने का अवसर मिला पर इस यात्रा में जिस प्रकार से जनसैलाब उमडा है वैसा आज तक कभी नहीं देखा है।

लोगों ने स्वेच्छा से खुद को मां गंगा के साथ जोडा है। देश के 40 प्रतिशत लोगों का मां गंगा से सीधा सम्बन्ध है। उन्होंने कहा कि गंगा यात्रा 27 जिलो से गुजरने के दौरान 1358 किमी का सफर तय करेगी। विराट स्वरूप में आरंभ हुई गंगा यात्रा के मार्ग में आने वाले सांस्कृतिक आध्यात्मिक व धार्मिक केन्द्रों का जीर्णोद्धार किया जाएगा।

गंगा के किनारे अब गंदगी नहीं हो रही है

गंगा यात्रा के साथ यह कार्य आरंभ हुआ है। सरकार आयुष वेलनेस सेन्टर का निर्माण करा रही है। गंगा के किनारे घाटों का निर्माण कराया जा रहा है। सरकार ने गंगा को निर्मल बनाने की दिशा में बडा प्रयास करके प्रदेश को खुले में शौच की प्रथा से मुक्त कराया है। इसके लिए शौचालय बनाए गए जिससे गंगा के किनारे अब गंदगी नहीं हो रही है।

कूडे की गंदगी को नदियों में जाने से रोकने की पुख्ता व्यवस्था करने के साथ ही सीवेज ट्रीटमेन्ट प्लांट लागाए गए। सरकार ने 79 नालों को टैप कराया है जिससे गन्दगी नदियों में जाने से रुकी है। गंगा के किनारे के क्षेत्र में रहने वाले लोगों को भी प्रधानमंत्री आवास योजना से लाभान्वित किया जा रहा है।

कानपुर में हुआ पहली गंगा यात्रा का भव्य स्वागत

वहीं उत्तर प्रदेश के कानपुर में देर शाम उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह तथा तथा कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना के नेतृत्व में गंगा यात्रा आज गंगा बॉर्डर के गांव गांगूपुर में आने पर जिलाधिकारी कानपुर नगर ब्रह्मदेव राम तिवारी एवं जनपद के अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने गंगा यात्रा का जनपद में माँ गंगा के रथ एवं मां सरस्वती के रथ के साथ गंगा यात्रा का भव्य स्वागत किया।

गंगा यात्रा के आगमन पर सैकड़ों की संख्या में मानव श्रंखला बनाकर तथा तरुण द्वार के अंदर गंगा यात्रा के कानपुर आगमन में पुष्प वर्षा एवं बैंड बाजों के साथ स्वागत किया गया। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बड़ी संख्या में उपस्थित नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा माँ गंगा को स्वच्छ एवं निर्मल बनाने के लिए तथा जन जागरूकता हेतु गंगा यात्रा आज कानपुर पहुंची है।

गंगा को स्वच्छ एवं निर्मल बनाने का कार्य करना चाहिए

सभी लोगों को मिलकर गंगा को स्वच्छ एवं निर्मल बनाने का कार्य करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के दिशा निर्देशों में गंगा यात्रा का आयोजन किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि गंगा गोमुख से गंगासागर तक प्रवाहित हो रही हैं तथा मोक्षदायिनी माँ गंगा 50 करोड़ लोगों को जीवन यापन का माध्यम है।

गंगा में कोई गंदगी नहीं डालें और ना स्वयं भी ना डालें तथा ना किसी को गंगा में गंदगी डालने दे। यह संदेश जन-जन तक पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि सरकार ने गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए गंगा यात्रा अभियान चलाया है। अब सभी लोग मिलकर गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए एक माह का अभियान चलाएं।

गंगा को स्वच्छ रखने का लोगों को संकल्प भी दिलाया

माँ गंगा सभी के कल्याण के लिए हैं।इसलिए हम सभी लोग मिल कर गंगा को निर्मल और स्वच्छ बनाने के लिए संकल्प ले कर कार्य करे इस अवसर पर डॉ सुरेश खन्ना कैबिनेट मंत्री ने कहा कि हम सब मिलकर ठाना है- गंगा को स्वच्छ बनाना है। उन्होंने गंगा को स्वच्छ रखने का लोगों को संकल्प भी दिलाया।

तो वही जलशक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह ने कहा कि गंगा सभी के लिए हैं। तथा गंगा की स्वच्छता रखना हम सभी लोग कर्तव्य है। गंगा यात्रा कार्यक्रम के दौरान बिल्लौर विधायक भगवती प्रसाद सागर जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी, मुख्य विकास अधिकारी सुनील सिंह तथा अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व वीरेंद्र पांडे सहित जन प्रतिनिधि सहित हजारो कि संख्या में नागरिक उपस्थित रहे।

गंगा यात्रा में बड़ी संख्या मैं लोगों ने प्रतिभाग किया

गंगा यात्रा के आगमन अवसर पर नेहरू विद्यालय सरदार पटेल एकेडमी तथा सूचना विभाग के संस्कृतिक दाल दारा तथा जादूगर के माध्यम से एवं छात्र छात्रों दारा गंगा को स्वच्छ निर्मल रखने हेतु सांस्कृतिक कार्यक्रम गीत एवं नाटक प्रस्तुत किए गए। इसके उपरांत गंगा यात्रा ग्राम गांगूपुर से बिल्लौर के लिए प्रस्थान की। गंगा यात्रा के बिल्लौर पहुंचने पर बिल्लौर कस्बे में नगरपालिका के सामने आयोजित कार्यक्रम में गंगा यात्रा का पुष्प वर्षा कर लोगों द्वारा स्वागत किया गया। इस गंगा यात्रा में बड़ी संख्या मैं लोगों ने प्रतिभाग किया।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story