×

अब उद्योग व वाणिज्य कनेक्शन मिलेंगे ऑनलाइन, शुभ्रा सक्सेना करेंगी निगरानी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 9 Feb 2018 4:02 PM GMT

अब उद्योग व वाणिज्य कनेक्शन मिलेंगे ऑनलाइन, शुभ्रा सक्सेना करेंगी निगरानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : उद्योग व वाणिज्य कनेक्शन के लिए उपभोक्ता को अब अनापत्ति प्रमाण पत्र के लिए विद्युत् सुरक्षा निदेशालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। निदेशालय ने इसके लिए ऑनलाइन आवेदन हेतु पोर्टल चालू किया है। अब 440 वोल्ट के ऊपर के अधिष्ठान, मीडियम अधिष्ठान उच्च्वोल्ट अधिष्ठान तथा 230 वोल्ट के नीचे के विद्युत् अधिष्ठान के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र की जरुरत होती है। अभी तक इस तरह के अनापत्ति के लिए उपभोक्ता को निदेशालय के चक्कर लगाने पड़ते थे। लेकिन उर्जा मंत्री श्री कांत शर्मा एवं प्रमुख सचिव उर्जा आलोक कुमार के निर्देश के परिणाम स्वरुप निदेशालय ने इन आवेदनों की सम्पूर्ण प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है।

ये भी देखें :एक्शन में DM शुभ्रा, BJP नेता की शराब दुकानों को निरस्त कर किया ब्लैक लिस्टेड

आवेदक को सुरक्षा निदेशालय की वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन लोड करना है। उसके बाद आवेदक को तत्काल एसएमएस से सूचना प्राप्त हो जाएगी। निरीक्षण की तिथि की सूचना भी ऐसी ही दी जाएगी, और संपूर्ण प्रक्रिया पूर्ण कर 20 दिन में अनापत्ति प्रमाण पत्र भी ऑनलाइन आवेदक के पास पहुंच जाएगी। यदि किसी कारण से उसे निश्चित समय पर अनापत्ति नहीं मिलेगी तो उच्चाधिकारियों को ऑनलाइन इसकी सूचना प्राप्त हो जाएगी कि निश्चित समय में यह आवेदन पर कार्यवाई पूर्ण नहीं हुई। इस तरह मॉनिटरिंग आसान होगी।

सुरक्षा निदेशालय की निदेशक शुभ्रा सक्सेना खुद इस पोर्टल की मॉनिटरिंग कर इसे और प्रभावी बनाने में लगी हुई हैं। उर्जा मंत्री की समीक्षा बैठक में निदेशालय द्वारा किये जा रहे इस कार्य की तारीफ भी की गई।

ये भी देखें :बधाई शुभ्रा! ई-कोर्ट प्रणाली के साथ एकीकृत हुआ IAS का सॉफ्टवेयर

शक्ति भवन में संपन्न इस समीक्षा बैठक में उर्जा मंत्री ने सुरक्षा निदेशालय को 1912 हेल्पलाइन से जोड़ने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अभी तक सुरक्षा निदेशालय की इमेज बहुत खराब है। इसे बेहतर बनाने के लिए यह जरुरी है कि हर स्तर पर अधिकारियों की जवाबदेही हो, तथा सारी प्रक्रिया ऑनलाइन ही उन्होंने अनापत्ति प्रमाण पत्र के लिए समय सीमा को कम करने के भी निर्देश दिए।

प्रमुख सचिव उर्जा ने कहा कि सुरक्षा निदेशालय की इस प्रक्रिया से भ्रष्टाचार की संभावना पर रोक लगेगी। आवेदक को बिना परेशानी के घर पर ही अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त होगा। सुरक्षा निदेशालय उद्योग और व्यापारिक संस्थाओं को चार तरह की अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी करता है। इस के लिए आवेदक को बहुत परेशानी उठानी पड़ती थी।

ये भी देखें :इस महिला आईएएस का सॉफ्टवेयर लायेगा, यूपी की न्याय व्यवस्था में नई क्रांति

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story