×

काबिले तारीफ़: इस जिले के जिलाधिकारी ने दिव्यांग से कराया ध्वजारोहण

आकर्षक एवं राष्ट्रीय समारोह के फॉर्मल ड्रेस में तैयार हुए इस 18 वर्षीय किशोर ने भी चेयर में बैठकर ध्वज की रस्सी पकड़ी और उसे खींचकर जिलाधिकारी कैंप कार्यालय पर झंडा फहराया।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 27 Jan 2020 5:12 AM GMT

काबिले तारीफ़: इस जिले के जिलाधिकारी ने दिव्यांग से कराया ध्वजारोहण
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

गाजियाबाद: 26 जनवरी 2020 को इस बार देशभर में 71वां गणतंत्र दिवस के रूप में बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। ज्यादातर सभी जगह मंत्री, नेता और अधिकारी द्वारा ध्वजारोहण किया गया। वहीं गाजियाबाद में गणतंत्र दिवस को मानाने को एक अलग अंदाज में जिलाधिकारी कैंप कार्यालय में ध्वजारोहण किया गया। यह मिसाल यहां पर गाजियाबाद के जिलाधिकारी ने पेश किया है, ध्वजारोहण के अवसर पर जिलाधिकारी ने खुद ध्वजारोहण न करके बल्कि एक दिव्यांग द्वारा ध्वजारोहण कराया।

आंखों में खुशी के आंसू छलक गए

बता दें कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण करते हुए दिव्यांग की आंखों में खुशी के आंसू छलक गए और वहां मौजूद सभी लोगों एवं अन्य कर्मचारियों के चेहरे पर भी खुशी छिपाए नहीं छिप रही थी।

दरअसल, गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने दिव्यांगों और श्रोताओं एवं दर्शकों की जमात से बाहर निकलकर राष्ट्रध्वज की रस्सी एक दिव्यांग के हाथ में थमाई।

ये भी देखें : मौसम का यू-टर्न: हिमाचल में येलो अलर्ट, UP समेत इन राज्यों में बारिश की आशंका

जिलाधिकारी कैंप कार्यालय पर झंडा फहराया

इस अवसर पर आकर्षक एवं राष्ट्रीय समारोह के फॉर्मल ड्रेस में तैयार हुए इस 18 वर्षीय किशोर ने भी चेयर में बैठकर ध्वज की रस्सी पकड़ी और उसे खींचकर जिलाधिकारी कैंप कार्यालय पर झंडा फहराया।

इतना ही नहीं, समारोह के बाद दिव्यांग अतिथियों के माध्यम से कैंप कार्यालय पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारी सुनील शर्मा एवं गौरव आदि कर्मचारियों को भी पुरस्कृत कराया गया।

गाजियाबाद के जिलाधिकारी ने यह कार्य करके एक बेजोड़ मिसाल पेश किया है। जिलाधिकारी द्वारा उठाये गए इस कदम से दिव्यांगजनों का सम्मान बढ़ा है।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story