Top

महिला डाॅक्टर की निर्मम हत्या: इस हालत में मिला शव, कांप जाएगी रूह

मंगलवार से लापता लेडी डॉक्टर का शव बुधवार को आगरा शहर के दूर डौकी थाना इलाके के बमरौली कटारा में एक खाली प्लॉट में मिली। शव देखने से  होता है कि महिला की बेरहमी से हत्या की गई है।

Suman

SumanBy Suman

Published on 20 Aug 2020 3:38 AM GMT

महिला डाॅक्टर की निर्मम हत्या: इस हालत में मिला शव, कांप जाएगी रूह
X
आगरा के डॉक्टर की हत्या, शहर से दूर मिली लाश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगरा: मंगलवार से लापता लेडी डॉक्टर का शव बुधवार को आगरा शहर के दूर डौकी थाना इलाके के बमरौली कटारा में एक खाली प्लॉट में मिली। शव देखने से होता है कि महिला की बेरहमी से हत्या की गई है। सरोजिनी नायडू मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस पास कर चुकी युवा महिला डॉक्टर की बेरहमी से हत्या कर दी गई।

मामला दर्ज

मृतका की पहचान डॉक्टर योगिता गौतम के रुप में पुलिस ने की है। योगिता दिल्ली की रहने वाली है और उसके पिता और भाई भी डॉक्टर हैं। मंगलवार से योगिता गायब थी और उसका फोन भी स्विच ऑफ था। जिसके बाद उन्होंने पुलिस में मामला दर्ज कराया। उन्होंने पुलिस को बताया कि उरई जालौन मेडिकल कॉलेज का मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर विवेक तिवारी उनकी बेटी डॉक्टर योगिता गौतम को लगातार परेशान कर रहा था।

दिल्ली निवासी डॉ योगिता

पुलिस द्वारा जानकारी मिलने के बाद बुंधवार को डॉक्टर योगिता गौतम के पिता और भाई आगरा पहुंचे. उन्होंने आगरा के थाना एमएम गेट में बेटी के गायब होने का मुकदमा दर्ज कराया. योगिता गौतम के पिता और भाई ने आरोप लगाया कि उरई जालौन मेडिकल कॉलेज का मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर विवेक तिवारी उनकी बेटी डॉक्टर योगिता गौतम को लगातार परेशान कर रहा था।

यह पढ़ें...गोंडा जिला BJP अध्यक्ष सूर्य नारायणः दृढ़ संकल्प से राजनीति में उदय

yogita gautam file

मेडिकल ऑफिसर पर आरोप

आरोपों के मुताबिक डॉ विवेक तिवारी डॉक्टर योगिता गौतम को जान से मारने की धमकी दे रहा था। डॉ योगिता गौतम से जुड़ी जानकारी सामने आने के बाद पुलिस ने डौकी थाना क्षेत्र में घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला तो डॉक्टर योगिता गौतम की मौत से जुड़े सुराग पुलिस के सामने आ गए।

आरोपी गिरफ्तार और पूछताछ

पुलिस ने विवेक तिवारी को हिरासत में ले लिया है। वहीं योगिता के सिर और गले पर चोट के निशान हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात भी सामने आई है कि मरने से पहले महिला ने अपनी जान बचाने के लिए संघर्ष भी किया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

यह पढ़ें..उस्ताद की अंतिम निशानी को बचाने आगे आया जिला प्रशासन, रुकवाया निर्माण कार्य

आगरा एसएसपी के मुताबिक आरोपी डॉ विवेक तिवारी से पूछताछ की जा रही है। इस मामले में पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है इस घटना से एसएन मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर्स और रेजिडेंट डॉक्टर्स में आक्रोश का माहौल है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Suman

Suman

Next Story