Top

शादी नहीं करना चाहता था इसलिए रची अपने अपहरण की साजिश

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 1 Feb 2016 2:41 PM GMT

शादी नहीं करना चाहता था इसलिए रची अपने अपहरण की साजिश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: कानपुर के नौबस्ता इलाके के रहने वाला एक युवक शादी नहीं करना चाहता था इसलिए उसने अपने अपहरण की साजिश रची। पुलिस और परिवार को गुमराह करने के कारण उस पर आईपीसी की धारा-182 के तहत कार्रवाई की जा रही है। पुलिस ने युवक शुभम को फतेहपुर के चौडगरा हाईवे से कल रविवार को बरामद कर लिया ।

मर्जी के खिलाफ शादी से था खफा

शुभम का कहना था कि शादी उसकी मर्जी के खिलाफ हो रही थी। उसकी एक गर्ल फ्रेंड भी है। वह उससे भी शादी नहीं करना चाहता । 29 जनवरी को तिलक के बाद वह इलाहाबाद भाग गया और घर वालों को फोन पर सूचना दी कि किन्नरों ने उसका अपहरण कर लिया है। चार फरवरी को उसका विवाह तय है लेकिन इस घटना के बाद लड़की वालों ने शादी से मना कर दिया है।

रची झूठी कहानी

-29 जनवरी को तिलक की रस्म के बाद घर से भागा।

-घर वालों को फोन कर बताया कि किन्नरों ने किया अपहरण।

-जिस किन्नर का जिक्र किया वह आता है शुभम के घर।

-किन्नर ने अपहरण की किसी बात से इंकार किया।

लड़की वाले भी बिदके

-पिता उसकी हरकत से शर्मिंदा।

-घटना के बाद लड़की वालों ने भी शादी से किया मना।

-पुलिस ने फतेहपुर के चौडगरा हाईवे से किया बरामद।

-पुलिस और घर वालों को गुमराह करने पर युवक के खिलाफ धारा-182 के तहत मामला दर्ज, होगी कार्रवाई।

किन्नर की सफाई

शुभम के पिता उमाशंकर ने बताया कि जिस किन्नर का जिक्र किया जा रहा था वह आज सुबह घर आया था। उसने कहा 'मेरा इस घटना में हाथ नहीं है यदि आप कहें तो यह बात मैं पुलिस के सामने भी कह सकता हूं'।

इलाहाबाद मिली थी लोकेशन

गोविन्द नगर सीओ विशाल पाण्डेय के मुताबिक सुभम की लोकेशन इलाहबाद मिल रही थी। जहां उसकी तलाश की गई लेकिन वह नहीं मिला।

क्या था मामला ?

नौबस्ता थाना क्षेत्र के चंदन नगर में रहने वाले उमाशंकर के बड़े बेटे सुभम का बीते 29 जनवरी को तिलक था। तिलक चढ़ने के बाद बाद वह अचानक लापता हो गया। अगले दिन शनिवार की दोपहर फोन आया कि मेरा कुछ किन्नरों ने अपहरण कर लिया है। इसके बाद परिवार में कोहराम मच गया था। परिजनों ने फ़ौरन इसकी सूचना नौबस्ता पुलिस को दी थी। पुलिस ने अज्ञात लोगों पर अपहरण का केस किया। सुभम की मां पुष्पा ने बताया था कि एक साल पहले क्षेत्र में रहने वाले खुशबू किन्नर और उसके साथी राजू से विवाद हुआ था। उसने धमकी दी थी कि सुभम को भी किन्नर बनाकर छोड़ेगें ।

Newstrack

Newstrack

Next Story