सात समंदर पार यूपी का परचम लहरा रहा है लखनऊ का लाल

राजधानी लखनऊ के दीनदयाल नगर (खदरा) एरिया में रहने वाले डॉ अनुराग मिश्र ने लखनऊ विश्वविद्यालय से स्नातक करने के बाद हिमांचल विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रेजुएशन किया।

Dr Anurag Mishra

सात समंदर पार यूपी का परचम लहरा रहा है लखनऊ का लाल (social media)

श्रीधर अग्निहोत्री

लखनऊ: आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पिछले छह महीने से टेक्सास यूनिवर्सिटी में वैज्ञानिकों का जो दल कोरोना वैक्सीन की खोज में जुटा है उसमें लखनऊ के डॉ अनुराग मिश्रा का अहम योगदान है। सीतापुर में पैदा हुए डॉ मिश्रा की प्रारम्भिक शिक्षा स्थानीय विद्यालयों में हुई । इसके बाद फिर वह लखनऊ आ गए और यहां पर उन्होंने उच्च शिक्षा प्राप्त की।

ये भी पढ़ें:आशिकी पर दिल्ली पुलिस का सजदा, जिंदगी से हार गई लड़की की कराई शादी

उन्होंने जे.एन.यू. में बायोइन्फामेंटिक्स में पीजी डिप्लोमा हासिल किया

राजधानी लखनऊ के दीनदयाल नगर (खदरा) एरिया में रहने वाले डॉ अनुराग मिश्र ने लखनऊ विश्वविद्यालय से स्नातक करने के बाद हिमांचल विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रेजुएशन किया। इसके बाद उन्होंने जे.एन.यू. में बायोइन्फामेंटिक्स में पीजी डिप्लोमा हासिल किया। नेट और गेट परीक्षा उच्च स्तर पर क्वालीफाई करने के बाद इंडियन इंस्टीट्यूट आफ साइंस से पीएचडी किया। इसके बाद उन्होंने नेशनल इंस्टीट्युट आफ इम्यूनोलाजी मे रिसर्च किया है।

मेडिकल सांइस में जाब शुरू किया

स्टडी मे गहरी अभिरुचि रखने वाले डा अनुराग मिश्र नेशनल इंस्टीट्यूट आफ इम्यूनोलाजी से पीजी कोर्स करने के बाद 2017 में अमेरिका चले गए। जहां उन्होंने मेडिकल सांइस में जाब शुरू किया और फिर रिसर्च के क्षेत्र से जुड़ गए। डॉ अनुराग मिश्र अपनी पत्नी डॉ. ऋचा पाण्डेय मिश्रा, (जो कि राजाजीपुरम की रहने वाली है, वह भी अपने पति की तरह बेहद पढ़ी लिखी हैं), दो बेटो के साथ टेक्सास मे रह रहे है।

Dr Anurag Mishra
Dr Anurag Mishra (social media)

डॉ अनुराग मिश्र ने फोन पर ‘न्यूज ट्रैक ’ को बताया

डॉ अनुराग मिश्र ने फोन पर ‘न्यूज ट्रैक ’ को बताया कि स्टडी ने कोविड-19 के एक महत्वपूर्ण एंजाइम की थ्रीडी संरचना को खोजा है, जो इसकी प्रतिकृति के लिए जरूरी है। इसमें पाया गया एक पॉकेट एंजाइम को बाधित करने का काम कर सकता है। शोध का नतीजा इस वायरस को समझने की दिशा में उल्लेखनीय उपलब्धि है। इन नतीजों की मदद से हम बहुत कुछ जानने में सक्षम हुए हैं।

एक बड़ा तोहफा देने को तैयार डॉ अनुराग मिश्रा ने बताया

दुनिया को एक बड़ा तोहफा देने को तैयार डॉ अनुराग मिश्रा ने बताया कि यह काम पूरा करने के बाद कुछ दिनों के लिए वह जल्द ही लखनऊ आएगें। उनका कहना है कि लखनऊ की याद हर रोज आती है और यह इच्छा मन में बराबर बनी रहती है।

ये भी पढ़ें:कानून-व्‍यवस्‍था के मद्देनजर स्‍थानीय प्रशासन ने लिया रात में अंतिम संस्‍कार का फैसला- डीजीपी

ईश्वर हमें जल्द ही अपना आशीर्वाद प्रदान करेगा

डॉ. अनुराग मिश्रा अब तक मिली सफलता का सारा श्रेय डॉ योगेश गुप्ता को देने में तनिक भी संकोच नहीं करते हैं। बेहद धार्मिक स्वाभाव के डॉ मिश्रा बतातें है कि डॉ योगेश गुप्ता के निर्देशन में हम लोग देश-दुनिया के लिए एक बड़ा काम कर रहे हैं। ईश्वर हमें जल्द ही अपना आशीर्वाद प्रदान करेगा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App