दिमागी बुखार को लेकर पूरे माह गांव-गांव तक चलाया जायेगा दस्तक अभियान

मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन पंकज कुमार ने बताया कि इस बार दिमागी बुखार के मामलों के लिए 18 जनपदों को संवेदनशील चिन्हित किया गया है। जिनमें गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज, कुशीनगर, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर, बस्ती, लखनऊ, हरदोई, लखीमपुर खीरी, रायबरेली, सीतापुर, उन्नाव, गोंडा, बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर एवं बाराबंकी शामिल हैं।

dastak abhiyan

dastak abhiyan

लखनऊ: प्रदेश में जेई व एईएस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुये 18 जिलों को संवेदनशील चिन्हित करते हुये कल पहली जुलाई से दस्तक अभियान चला कर लोगों को दिमागी बुखार से निपटने के लिए जागरूक किया जायेगा। इसके साथ ही कल ही से प्रदेश के सभी 75 जिलों में संचारी रोग नियंत्रण अभियान भी शुरू किया जायेगा।

ये भी देखें : शाहजहांपुर पुलिस ने चार शातिर चोरों को किया गिरफ्तार

मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन पंकज कुमार ने बताया कि इस बार दिमागी बुखार के मामलों के लिए 18 जनपदों को संवेदनशील चिन्हित किया गया है। जिनमें गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज, कुशीनगर, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर, बस्ती, लखनऊ, हरदोई, लखीमपुर खीरी, रायबरेली, सीतापुर, उन्नाव, गोंडा, बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर एवं बाराबंकी शामिल हैं। इन जनपदों में दरवाजे-दरवाजे पर दस्तक देकर जनता को दिमागी बुखार के प्रति जागरूक किया जायेगा।

ये भी देखें : दो बच्चों से ज्यादा वाले नागरिकों का वोटिंग अधिकार खत्म हो : सुभाष पार्टी

मिशन निदेशक ने बताया कि इस अभियान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ अन्य विभागों द्वारा भी सहयोग लिया जायेगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश के मुख्य सचिव डा. अनूप चंद्र पांडेय द्वारा पिछले दिनों इस संबंध में विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को इस अभियान को सफल बनाने के लिए निर्देश दिये गये थे। मिशन निदेशक ने बताया कि प्रदेश में दिमागी बुखार और संचारी रोगों से होने वाली जीवन क्षति को बचाने के लिए इस बार प्रदेशव्यापी तैयारियां की गयी हैं और पूरे प्रदेश में एक साथ यह अभियान प्रारम्भ किया जायेगा।