×

Lakhimpur Kheri News: दुधवा सैलानियों के लिए खुला, अब कर सकेंगे वन्य जीवों का दीदार

Lakhimpur Kheri News: लखीमपुर खीरी के तराई में मौजूद दुधवा टाइगर रिजर्व पर्यटकों के लिए 15 नवंबर मंगलवार से खोल दिया गया है। जिसको लेकर पर्यटकों में खास उत्साह देखने को मिला, क्योंकि अब वह खुले में विचरण करते वन्य जीवों के दीदार कर सकेंगे।

Himanshu Srivastava
Published on: 16 Nov 2022 8:21 AM GMT
X

Dudhwa National Park Lakhimpur Kheri (News Network)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lakhimpur Kheri News: लखीमपुर खीरी जिले के तराई में मौजूद दुधवा टाइगर रिजर्व पर्यटकों के लिए 15 नवंबर मंगलवार से खोल दिया गया है। जिसको लेकर पर्यटकों में खास उत्साह देखने को मिला, क्योंकि अब वह खुले में विचरण करते वन्य जीवों के दीदार कर सकेंगे। दुधवा के शुभारंभ को लेकर दुधवा पहुंचे वन मंत्री अरुण कुमार ने विधि विधान व पूजा अर्चना करने के स्थानीय विधायक रोमी साहनी, फील्ड डायरेक्टर संजय पाठक व डिप्टी डायरेक्टर सहित अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में फीता काटकर दुधवा टाइगर रिजर्व ओपनिंग का उद्घाटन किया।

इस मौके पर तमाम तरह की वन्यजीवों और पक्षियों की प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया, इसके अलावा "दि नेचर सोसायटी" के अध्यक्ष शेखर श्रीवास्तव के नेतृत्व में बच्चों ने रंगोली सजाई। उद्घाटन के बाद वन मंत्री अरुण कुमार ने मीटिंग हाल के पास फाउंडेशन की तरफ से बनाये गए सेल्फी पॉइंट का भी फीता काटकर उद्घाटन किया। इस मौके पर दूर-दूर से आए पर्यटकों ने दुधवा में सफारी का भी आनंद उठाया लेकिन वन्यजीवों का दीदार ना होने पर उन्हें मायूसी नजर आई। आपको बताते चलें लखीमपुर खीरी जिले से करीब 90 किलोमीटर की दूरी पर दुधवा टाइगर रिजर्व बना हुआ है।

वहां दूर-दूर से पर्यटक घूमने के लिए आते हैं। मंगलवार को दुधवा टाइगर रिजर्व के कपाट खोले जा चुके हैं। अब वहां दूर-दूर से आने वाले पर्यटकों के घूमने का रास्ता साफ हो चुका है, जहां वह अपनी फैमिलियों के साथ आ सकेंगे। लेकिन सुविधा शुल्क को लेकर पर्यटकों में खासा रोष भी दिखाई दिया जिन्हें वन्यजीवों का दीदार करने को लेकर अपनी जेबें ढीली करनी पड़ रही हैं। उन्होंने इस के लिए निर्धारित शुल्क फिक्स किये जाने की मांग की है।

Prashant Dixit

Prashant Dixit

Next Story