×

स्मारक घोटाले में मायावती पर शिकंजा, करीबियों के ठिकानों पर ED का छापा

अवैध खनन और रिवर फ्रंट घोटाले के बाद अब स्मारक घोटाले का जिन्न बाहर निकला है। तीन साल से लगभग ठंडे बस्ते में पड़ी स्मारक घोटाला जांच में प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) ने अब तेजी दिखाई है। ईडी की टीम ने मायावती सरकार में लखनऊ व नोएडा में स्मारक घोटाले में बड़ी छापेमारी की है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 31 Jan 2019 9:45 AM GMT

स्मारक घोटाले में मायावती पर शिकंजा, करीबियों के ठिकानों पर ED का छापा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: अवैध खनन और रिवर फ्रंट घोटाले के बाद अब स्मारक घोटाले का जिन्न बाहर निकला है। तीन साल से लगभग ठंडे बस्ते में पड़ी स्मारक घोटाला जांच में प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) ने अब तेजी दिखाई है। ईडी की टीम ने मायावती सरकार में लखनऊ व नोएडा में स्मारक घोटाले में बड़ी छापेमारी की है।

6 ठिकानों पर ED की छापेमारी

गुरुवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और एनसीआर के 6 ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी हुई। ईडी की टीम ने लखनऊ में इंजिनियरों, ठेकेदारों और स्मारक घोटाले से जुड़े लोगों के ठिकानों पर छापा मारे। गोमतीनगर अलीगंज, हजरतगंज और शहीद पथ के पास छापेमारी की गई है।

1400 करोड़ घोटाला आया था सामने

बसपा सुप्रीमो मायावती के कार्यकाल के दौरान लखनऊ व नोएडा में स्मारक का निर्माण किया गया था। इसमें करीब 1400 करोड़ (14 अरब) रुपये का घोटाला सामने आया था।

एसआईटी का भी गठन

जांच के लिए विजिलेंस में सात इंस्पेक्टर की एक एसआईटी का भी गठन किया गया था। बताया जा रहा है कि विजिलेंस जांच की पूरी रिपोर्ट मिलने के बाद ही ईडी ने कार्रवाई शुरू की है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story