×

KGMU में एंटरप्रेन्योरशिप कार्यक्रम का हुआ आयोजन, डॉ. अनित बोले- 'ख़ुद का बिजनेस शुरू कर पाएंगे सही आज़ादी'

KGMU: आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्विद्यालय (KGMU) के फैकेल्टी ऑफ पैरामेडिकल साइंसेज के अंतर्गत एंटरप्रेन्योरशिप के कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

Shashwat Mishra
Updated on: 10 Aug 2022 2:55 PM GMT
Entrepreneurship program organized in KGMU, Dr. Anit said - You will be able to start your own business with the right freedom
X

लखनऊ: KGMU में एंटरप्रेन्योरशिप कार्यक्रम का हुआ आयोजन

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: आजादी के अमृत महोत्सव (Azadi Ka Amrit Mahotsav) के अंतर्गत किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्विद्यालय (KGMU) के फैकेल्टी ऑफ पैरामेडिकल साइंसेज के अंतर्गत एंटरप्रेन्योरशिप (entrpreneurship) के कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहां मुख्य अतिथि के रूप में डीन फैकल्टी आफ पैरामेडिकल साइंस प्रोफेसर अनिल निश्चल उपस्थित रहे। जज के रूप में हेड ऑफ डिपार्टमेंट, डिपार्टमेंट ऑफ डरमेट्रोलॉजी डॉ. स्वरिका सुवीर्य, सहसंयोजक सम्राट विक्रमादित्य सेवा केंद्र एवं स्वास्थ्य आयाम प्रमुख सेवा भारती लखनऊ विभाग आनंद पांडे और आयुर्वेदिक हॉस्पिटल के डॉ संजय गुप्ता मौजूद रहे।

आर्थिक आज़ादी से मिलेगी सही आज़ादी

इस प्रोग्राम के ऑर्गेनाइजर व फैकल्टी ऑफ पैरामेडिकल साइंसेज के असिस्टेंट डीन प्रोफेसर अनित परिहार (Assistant Dean Professor Anit Parihar) ने बताया कि हम आजादी का अमृत महोत्सव हम मना रहे हैं, क्योंकि हमारी आजादी को 75 वर्ष हुए हैं। 75 वर्ष के अंत में हमें एक बार विचार करना चाहिए कि हमने कितना पाया है, तो मूल भावना यह है कि हम पिछले कई सालों से गुलाम हैं और बड़ी मुश्किल से हमें आजादी मिली हुई है।


जितना मुश्किल आजादी मिलना था, उससे ज्यादा मुश्किल आजादी बनाए रखना होता है। डॉ अनित परिहार ने यह भी बताया कि 'मेकिंग इंडिया फाइव ट्रिलियन इकोनॉमी फ़ॉर यूथ-2022' का बेसिक अर्थ है, आर्थिक आजादी (financial freedom) से। बहुत सारे ऐसे देश हैं, जो दूसरे देशों से लोन लेते हैं और अपने व्यवसाय को बढ़ावा देते हैं। लेकिन कहीं न कहीं यह आजादी उनकी खिल रही है, यद्यपि हम अपना बिजनेस फिर से खुद से शुरू करेंगे और इस को बढ़ावा देंगे, तो हम एक आजाद देश के तौर पर काम कर सकते हैं।

ये रहे विजेता

इस प्रोग्राम में छात्र-छात्राओं ने पीपीटी प्रेजेंटेशन के तहत अपने बिजनेस के आइडिया को शेयर किया एवं कॉम्पिटेटिव ओरल प्रेजेंटेशन में पार्टिसिपेट किया। जिसमें प्रथम विजेता शक्तिमान पाल एवं नितेश उपाध्याय रहे। द्वितीय स्थान ग्रहण करने वाले नमिता एवं सौम्या रहे। तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले परितोष राय रहे। कार्यक्रम में 18 से ज्यादा बच्चों ने पार्टिसिपेट किया। जिसका संचालन सोनिया शुक्ला ने किया एवं कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रहलाद मौर्य, शिवांगी श्रीवास्तव सचिन शर्मा, उदय प्रताप मिश्रा, अखिलेश बाजपेई, मनशुल जोशी एवं आयुष दिवेदी का विशेष योगदान रहा।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story