×

हिमस्खलन में शहीद हुआ एटा का लाल नीरेश, नम आंखों से दी अंतिम विदाई

aman

amanBy aman

Published on 4 Feb 2018 4:19 AM GMT

हिमस्खलन में शहीद हुआ एटा का लाल नीरेश, नम आंखों से दी अंतिम विदाई
X
हिमस्खलन में शहीद हुआ एटा का लाल नीरेश, आज होगा अंतिम संस्कार
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

एटा: जिले के कासोंन निवासी नीरेश बाबू ग्लेशियर दिराश में हुए हिमस्खलन में शहीद हो गए। जानकारी मिलने के बाद घर में कोहराम मच गया। बता दें, कि थाना बागवाला क्षेत्र के रहने वाले नीरेश बाबू (45 वर्ष) की तैनाती लेह के ग्लेशियर दिराश नामक स्थान पर थी। शहीद जवान का आज (04 फरवरी) अंतिम संस्कार किया गया। उनके बेटे ने मुखाग्नि दी।

तीन दिन पहले दिराश में बड़े पैमाने पर हिमस्खलन हुआ था। नीरेश इसी हिमस्खलन का शिकार हुए। इसकी जानकारी सेना के माध्यम से परिवार वालों को दी गई थी। जवान के शहीद होने की जानकारी जब पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को हुई तो तहसीलदार मौके पर पहुंच गए।

शनिवार देर शाम शहीद जवान का पार्थिव शरीर उनके गांव लाया गया। शहीद के भाई अनिल कुमार ने बताया, कि रविवार (04 फ़रवरी) को शहीद का अंतिम संस्कार किया जाएगा। शहीद ने अपने पीछे पत्नी के साथ एक पुत्र और एक पुत्री छोड़ गए।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story