×

पूर्व ब्लाक प्रमुख की गुंडई, बाग से बीडीसी का कर लिया अपहरण, मामले की लीपापोती में जुटी पुलिस

ब्लाख प्रमुख के चुनाव की सरगर्मी बढ़ गई है। सीट हथियाने के लिए दावेदारों की गुंडई चरम पर आ गई है।

Etah
X

थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंची अपहृत बीडीसी की पत्नी (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

एटा। ब्लाख प्रमुख के चुनाव की सरगर्मी बढ़ गई है। सीट हथियाने के लिए दावेदारों की गुंडई चरम पर आ गई है। एटा जनपद के थाना अलीगंज क्षेत्र के ग्राम हत्सारी में बीती रात्रि अलीगंज ब्लाक के पूर्व ब्लाक प्रमुख व प्रमुख पद के सशक्त प्रत्याशी ओमपाल सिंह ने एक बीडीसी सदस्य का अपहरण करा लिया है। बताया जा रहा है कि बीडीसी सदस्य अपने बाग की रखवाली कर रहे थे कि इसी दौरान उसका अपहरण कर लिया गया। अपहृत बीडीसी की पत्नी ने इस संदर्भ में अलीगंज थाने में नामजद रिपोर्ट दर्ज करायी है।

अपहृत बीडीसी सदस्य की पत्नी नेमवती ने बताया कि उनके पति शेरसिंह बीती रात बाग की रखवाली कर रहे थे। रात लगभग 3.30 बजे ग्राम टपुआ निवासी ओमपाल सिंह अपने तीन अन्य सशस्त्र साथियों के साथ आ गये और जबरन मेरे पति का अपहरण कर ले गये। नेमवती ने बताया कि मेरे पति पर प्रमुख के चुनाव में ओमपाल व भाजपा नेता अशोक रत्न शाक्य अपने अपने पक्ष में वोट डालने को लेकर काफी दबाव बना रहे हैं। ओमपाल चुनाव में अपने पक्ष में वोट डालने को लेकर मेरे पति का अपहरण कर ले गये।

प्रभारी निरीक्षक कोतवाली अलीगंज अशोक कुमार ने बताया कि मामला अपहरण का नहीं चुनाव का है। पुलिस शीघ्र ही शेर सिंह को बरामद करके उसके घर पहुंचा देगी। अपर पुलिस अधीक्षक ओपी सिंह ने बताया कि बीती शाम शेर सिंह की पत्नी ने अपने पति का नामजद अपहरण किये जाने की सूचना दी थी। थाने में रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है। वहीं जब अपहत के पुत्र से पूछा गया तो उसने बताया कि मैं अपने पिता को बुआ के घर छोड़कर आया हूं। वह सुबह आ जायेंगे दोनों पक्षों की जांच की जा रही है।

इस प्रकरण में पुलिस का बयान दोनों पक्षों में से किसी को सही नहीं मान रहा है। एक ओर पुलिस ने अपहरण का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, वहीं दूसरी ओर अपहृत युवक के अपनी बहन के घर चले जाने की बात यह साबित कर रही है कि मामले में कुछ झोल जरूर है। कुल मिलाकर मामले में पुलिस की तरफ से लीपापोती जारी है।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story