Top

मुर्दों को देखते ही मुस्कुराने लगते थे ये दोनों शख्स, मौका पाकर करते थे घिनौना काम

एक्सीडेंट के दूसरे दिन मृतक सुनील कुमार के पे-टीएम से कुल 45000 रुपये निकाल भी लिए गए थे। पुलिस ने जब इस केस की पड़ताल शुरू की तो कई चौंकाने वाले खुलासे हुए।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 8 March 2021 7:44 AM GMT

मुर्दों को देखते ही मुस्कुराने लगते थे ये दोनों शख्स, मौका पाकर करते थे घिनौना काम
X
एक्सीडेंट में मृतक सुनील कुमार सिंह के पास एटीएम कार्ड, डीएल, पर्स मे रखे 20000 रुपये और एक चेन थी। सारा सामान गायब हो गया था।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के इटावा में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां पुलिस ने एक एम्बुलेंस के चालक और उसके परिचालक को अरेस्ट किया है।

दोनों पर आरोप है कि वे एम्बुलेंस में शव ले जाते समय मृतक के कीमती सामान, कैश, घड़ी, अंगूठी आदि पर हाथ साफ कर देते थे।

चालक की पहचान संजीव कुमार बढ़पुरा के निवासी के तौर पर हुई है। जबकि परिचालक शोभित कुमार कन्नौज का रहने वाला है।

कोविड वैक्सीनेशन में यूपी अव्वल, राजस्थान बना रोल मॉडल, अन्य राज्यों का ये हाल

Ambulance मुर्दों को देखते ही मुस्कुराने लगते थे ये दोनों शख्स, मौका पाकर करते थे घिनौना काम(फोटो:सोशल मीडिया)

एम्बुलेंस के चालक और परिचालक ने इन कीमती सामानों पर किया था हाथ साफ

इटावा के एसएसपी आकाश तोमर के मुताबिक थाना बढ़पुरा में 27 फरवरी को एक व्यक्ति दुर्घटना में बुरी तरह जख्मी हो गया था जिसको हॉस्पिटल ले जाया जा रहा था लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया था।

मृतक के परिजनों को जब डेडबॉडी सौंपी गई तो उसके एटीएम कार्ड, सोने की अंगूठी, चेन, घड़ी सब कुछ गायब थे। उन्होंने पुलिस से इस मामले में शिकायत की। पुलिस ने एम्बुलेंस के चालक और परिचालक से कड़ाई से पूछताछ की तो पूरी सच्चाई सामने आ गई।

एसएसपी ने बताया कि 3 मार्च को कुंवर रविंद्र सिंह ने पुलिस के पास कम्प्लेन दर्ज कराई दी थी कि उनके भतीजे सुनील कुमार सिंह बोलेरो गाड़ी नंबर यूपी 35 एक्स 1700 अपने परिवार के साथ उन्नाव से ग्वालियर जा रहे थे तभी रास्ते में इटावा के पास रामकृष्ण होटल के नजदीक एक ट्रैक्टर के चालक की लापरवाही से एक्सीडेंट हो गया।

यहां रोज सजती थीं जिस्म की मण्डी, ये शख्स अपनी ही गर्लफ्रेंड के लिए लाता था ग्राहक

Ambulance मुर्दों को देखते ही मुस्कुराने लगते थे ये दोनों शख्स, मौका पाकर करते थे घिनौना काम(फोटो:सोशल मीडिया)

पुलिया ने ऐसे किया आरोपियों को गिरफ्तार

इस हादसे में उनके भतीजे की मौत हो गई और अन्य परिजन भी घायल हो गए। मृतक सुनील कुमार सिंह के पास एटीएम कार्ड, डीएल, पर्स मे रखे 20000 रुपये और एक चेन थी। सारा सामान गायब हो गया था।

एक्सीडेंट के दूसरे दिन यानी 28 फरवरी को मृतक सुनील कुमार के पे-टीएम से कुल 45000 रुपये निकाल भी लिए गए थे। पुलिस ने जब इस केस की पड़ताल शुरू की तो कई चौंकाने वाले खुलासे हुए।

एसएसपी के बताया कि एम्बुलेंस की तलाश में पुलिस चालक संजीव और परिचालक शोभित तक पहुंची और उन्हें अरेस्ट कर लिया।

उनके पास से एक मोबाइल, एक एटीएम कार्ड, एक आधार कार्ड, एक डीएल, एक बिग बाजार कार्ड, एक दिल्ली मेट्रो कार्ड और 44700 रुपये नकद बरामद कर लिए हैं। उन्होंने पूछताछ में सुनील कुमार सिंह के सामानों को चुराने की बात कबूल कर ली है।

झांसी: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस, रेलवे में दिखी नारी सशक्तिकरण की छवि

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story