Top

पूर्व IAS ने कहा- कैराना के कुछ इलाकों में पुलिस दिन में भी नहीं जाती

By

Published on 15 Jun 2016 3:34 PM GMT

पूर्व IAS ने कहा- कैराना के कुछ इलाकों में पुलिस दिन में भी नहीं जाती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: मुजफ्फरनगर के डीएम रहे​ रिटायर आईएएस ऑफिसर सूर्य प्रताप​ सिंह का कहना है कि वह कैराना की आबोहवा को अच्छी तरह जानता हैं। कैराना में कुछ ऐसे मोहल्ले हैं, जहां पुलिस दिन में भी नहीं घुस सकती।

पूर्व सांसद के संरक्षण में होता है अवैध काम

-सूर्य प्रताप सिंह का कहना है कि गुंडागिरी, अवैध असलहे और पशु तस्करी एक राजनैतिक पार्टी के पूर्व सांसद के संरक्षण में दिनदहाड़े होती है।

-इस पूर्व सांसद के अहाते से तस्करी के 25 किलो सोना और कई कुंटल चरस बरामद हुई थी।

-सूर्य प्रताप सिंह का कहना है कि यहां पुलिस कोतवाली में एक मजहब विशेष का दरोगा ही तैनात करना पड़ता है, नहीं तो 'कैराना' को संभालना मुश्किल हो जाए।

ias

कुछ मोहल्लो में तो रात में घुसने का सवाल ही पैदा नहीं होता

सूर्य प्रताप सिंह ने अपने अनुभवों को शेयर करते हुए कहा है कि चुनाव के दौरान जब मैं वहां था तो मजिस्ट्रेट और पुलिस का रात में तो कुछ मोहल्लों में घुसने का सवाल ही पैदा नहीं होता था। दिन में भी किसी 'अपराधी' को पकड़ने या तो कोई जाता नहीं था या फिर विशेष व्यवस्था करनी पड़ती थी।

यह भी पढ़ें ... कैराना पलायनः जांच के लिए पहुंची BJP टीम, घर-घर जा कर रहे हैं पड़ताल

सूर्य प्रताप सिंह ने कहा

-मुझे आशंका है कि इस मामले में ठोस कारवाही की जगह सियासत जरूर होगी।

-चुनावी रंग में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आग लगाने की कोशिश जरूर होगी।

-एक बार कैराना से अपराधियों को पुनः 'फ्लश-आउट' का प्रयास जरूर होना चाहिए।

-स्थिति कभी भी विस्फोटक हो सकती है।

-कोई मेरी बात के अन्यथा मायने न निकाले ... मैं सभी मज़हबों का सम्मान करता हूं।

Next Story