आबकारी विभाग की टीम ने मारा छापा, इतने लीटर शराब बरामद

होली के त्यौहार को देखते हुए आबकारी विभाग ने रविवार को पछइयां बस्ती में छापा मारा। छापेमारी के दौरान विभाग द्वारा पछइयां बस्ती से 12 कुंटल लहन नष्ट किया गया

औरैया:  होली के त्यौहार को देखते हुए जिलाधिकारी के निर्देश पर आबकारी विभाग ने रविवार को पछइयां बस्ती में सुबह छापा मारा। छापेमारी के दौरान विभाग द्वारा पछइयां बस्ती से 12 कुंटल लहन नष्ट किया गया। जबकि 35 लीटर कच्ची शराब बरामद की गई। इसके अलावा विभाग द्वारा शराब बनाने के उपकरण जब्त कर लिए गए।

रविवार की सुबह जिला अधिकारी एवं उप आबकारी आयुक्त कानपुर के निर्देशन में जनपद की आबकारी विभाग की टीम ने ज्ञानेंद्र नाथ पांडे के नेतृत्व में अवैध शराब के निर्माण व तस्करी की रोकथाम के लिए आबकारी निरीक्षक बीके तिवारी, देवेंद्र सिंह एवं कानपुर से आई टीम निरीक्षक साहब सिंह पाल के साथ संयुक्त रूप से बस्ती में छापेमारी की।

35 लीटर शराब की बरामद

ये भी पढ़ें- बिहार: विधानसभा चुनाव से पहले विधानपरिषद के लिए पार्टियों ने कसी कमर

इस दौरान पछइयां बस्ती की महिलाओं के साथ आवकारी विभाग की नोकझोंक भी हुई। आबकारी विभाग की टीम ने पछइयां बस्ती में जाकर 12 कुंतल लहन एवं 35 लीटर कच्ची शराब बरामद की।

इसके अलावा टीम ने 2 महिलाओं को भी आबकारी अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया है। आबकारी अधिकारी ज्ञानेंद्र नाथ पांडे ने बताया कि छापामारी अभियान से पछइयां बस्ती में हड़कंप मचा हुआ है। बताया कि इस दौरान उन्होंने कई भट्ठियां तोड़ीं और शराब बनाने के उपकरण भी बरामद किए हैं।

शराब का सेवन न करने की दी सलाह

आबकारी अधिकारी ने कहा कि विभाग द्वारा समय-समय पर पछइयां बस्ती में छापामारी अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बस्ती के लोगों से कहा कि शराब के अवैध निर्माण को बंद कर दें नहीं तो कठोर कदम उठाए जाएंगे।

आबकारी अधिकारी ने बताया कि होली के त्यौहार पर जहरीली शराब का सेवन ना करें। यह शरीर के लिए बहुत हानिकारक होती है।

ये भी पढ़ें- कोरोना वायरस को लेकर HC में याचिका, कोर्ट ने योगी सरकार से मांगा जवाब

उन्होंने यह भी कहा जहरीली शराब पीने से शराब पीने वाले की जिंदगी तो बर्बाद होती ही है उनके बच्चे भी दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो जाते हैं।