Top

STF ने की छापेमारी, रेलवे के फर्जी ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट का भंडाफोड़

By

Published on 14 May 2016 7:30 AM GMT

STF ने की छापेमारी, रेलवे के फर्जी ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट का भंडाफोड़
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: रेलवे एसटीएफ ने आलमबाग में छापा मारकर एक रेलवे ट्रेनिंग सेंटर का भंडाफोड़ किया है। एसटीएफ ने छापेमारी के दौरान नौ लोगों को गिरफ्तार किया। उनके पास से भारी मात्रा में नियुक्ति पत्र और रेलवे से जुड़ी फाइलें सहित मोहरें बरामद हुई हैं।

क्या कहना है एसटीएफ के एएसपी का ?

-एसटीएफ के एडिशनल एसपी त्रिवेणी सिंह ने बताया कि राजधानी के आलमबाग इलाके में रेलवे कॉलोनी के मकान नंबर टी- 26 में छापेमारी की गई।

-छापेमरी के दौरान फर्जी तरीके से चलाए जा रहे ट्रेनिंग सेंटर का पता चला।

-इस सेंटर में फर्जी तरीके से बेरोजगार युवाओं से लाखों रुपए लेकर ट्रेनिंग करवाई जा रही थी।

ये भी पढ़ें...मॉल में बिक रही टी-शर्ट पर आपत्तिजनक पोस्ट छपे होने पर मचा हंगामा

भारी मात्र में मिले फर्जी कागजात

-एसटीएफ ने मौके से नौ लोगों को गिरफ्तार किया।

-पकड़े गए लोगों के पास से भारी मात्रा में रेलवे के फर्जी कागजात मोहर और अन्य सामान बरामद हुए हैं। -एसटीएफ इस मामले में पूछताछ कर रही है।

रेलवे नेटवर्क ऑफ़ इंडिया के नाम से चल रहा था सेंटर

-जालसाज 'रेलवे नेटवर्क ऑफ इंडिया' के नाम से फर्जी ट्रेनिंग सेंटर चला रहे थे।

-सेंटर में एक अभ्यर्थी से साढ़े तीन लाख से चार लाख रुपए तक वसूले जाते थे।

-साथ ही उन्हें ट्रेनिंग के बाद नौकरी दिलाने का झांसा भी दिया जाता था।

ये भी पढ़ें...TRADE TAX विभाग में सेंध,ID पासवर्ड हैक कर व्‍यापारियों से करोड़ों ठगे

इनकी हुई गिरफ्तारी

पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में अपने नाम संचालक दिलीप सिंह, सह संचालक कुणाल श्रीवास्तव, शिक्षक मुकेश कुमार, शिक्षक रोशन कुमार, एजेंट राजेश शर्मा, एजेंट राजीव, एजेंट जितिन कुमार, एजेंट अशोक कुमार बताया ,इनके साथ एक अन्य की भी गिरफ्तारी हुई है। इसके अलावा मुख्य शिक्षक कोलकाता निवासी रजनीश सिंह कुछ दिन पहले छुट्टी लेकर भाग चुका है।

Next Story