×

15 वर्षों तक किसान आत्महत्या को मजबूर रहा- सीएम योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हर ब्लाक में कृषि उत्पादन संगठन कार्य करें। इस दिशा में लगातार सरकार काम कर रही है। इससे किसानों को लाभ हो और वह अपने परिश्रम से इस धरती पर सोना पैदा कर सके।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 17 Jan 2020 6:34 AM GMT

15 वर्षों तक किसान आत्महत्या को मजबूर रहा- सीएम योगी आदित्यनाथ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हर ब्लाक में कृषि उत्पादन संगठन कार्य करें। इस दिशा में लगातार सरकार काम कर रही है, जिससे किसानों को लाभ हो और वह अपने परिश्रम से इस धरती पर सोना पैदा कर सके।

सीएम योगी ने किसानों को किया चेक वितरण

मुख्यमंत्री ने आज यहां लोकभवन में आयोजित प्रगतिशील कृषक सम्मेलन में आये किसानों को चेक वितरण के बाद कहा कि हमारे प्रदेश में भरपूर संसाधनों के बाद भी पिछले 15 वर्षों में शासन की गलत नीतियों के कारण किसान आत्महत्या को मजबूर था। पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के लिए कई योजनाएं लाने का काम किया। जिससे किसानों के हालात में सुधार हुआ।

यह भी पढ़ें: इंदिरा गांधी मिलने जाती थीं करीम लाला से, इस डॉन के बेटे ने बताई सच्चाई

किसानों को स्वावलंबी बनाने का किया काम

इसी तरह तीन साल पहले ऋण मोचन योजना के तहत यूपी में किसानों को स्वावलंबी बनाने का काम किया। नदियों के क्षेत्र में कई परियोजनाएं जो लंबित थी, उन्हें पूरा करने का काम किया है। इसके अलावा कृषि विज्ञान केंद्र खोलने का काम किया है। इन्हें कृषि विश्विद्यालय से जोड़ा जाएगा जिससे कृषि उन्नत बीजों का निर्माण किया जा सकेगा।

उन्होंने कहा कि लागत से अधिक दाम पहली बार हमारी सरकार ने देने का काम किया है। चीनी मिलें बंद थी जिन्हें खुलवाने के काम किया और नई मिले खुलवाने के काम किया। इस समय 121 चीनी मील चल रही है। हमारा प्रयास किसानों की कम लागत पर अधिक लाभ देने का है।

यह भी पढ़ें: हत्या या आत्महत्या: 6 साल बाद भी इस कांग्रेसी नेता की पत्नी की मौत का नहीं खुला राज

Shreya

Shreya

Next Story