×

शाहजहांपुर: मांगे मनवाने के लिए किसान यूनियन ने किया अनोखा प्रदर्शन

किसान यूनियन के नेता और कार्यकर्ताओं ने पेट के बल रेंगकर जिला कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे और फिर वहां से जिलाधिकारी के आफिस के पास पहुंच  गए। किसान यूनियन का कहना है कि किसानों की फसलों को आवारा पशु बर्बाद कर रहे हैं। साथ ही सरकार इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 14 Feb 2019 1:29 PM GMT

शाहजहांपुर: मांगे मनवाने के लिए किसान यूनियन ने किया अनोखा प्रदर्शन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: यहां आवारा पशुओं से परेशान किसान यूनियन के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने अनोखे ढंग से धरना प्रदर्शन किया। किसान यूनियन के नेता और कार्यकर्ताओं ने पेट के बल रेंगकर जिला कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे और फिर वहां से जिलाधिकारी के आफिस के पास पहुंच गए। किसान यूनियन का कहना है कि किसानों की फसलों को आवारा पशु बर्बाद कर रहे हैं। साथ ही सरकार इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है। अगर जल्द ही आवारा पशुओं से निजात नहीं दिलाई गई तो किसान यूनियन उग्र आन्दोलन करने को मजबूर होगी।

ये भी पढ़ें...मिट्टी हुआ किसानों का आलू, सड़कों पर फेंका, आंदोलन की दी चेतावनी

ये है पूरा मामला

दरअसल आवारा पशुओं से किसान परेशान है। किसानों की फसलों को आवारा पशुओं काफी ज्यादा नुकसान पहुचा रहे है। ऐसे मे किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष जीशान खान के नेतृत्व मे भारी तादात मे किसान यूनियन के कार्यकर्ता और नेता इकट्ठा होकर जिला कलेक्ट्रेट परिसर पहुच गए। कलेक्ट्रेट परिसर से ही कार्यकर्ताओं ने जमीन पर पेट के बल रेंगना शूरू कर दिया। रेंगते हुए सभी लोग जिलाधिकारी आफिस तक पहुच गए।

उसके बाद जमीन पर लेटे लेटे सरकार और अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। इस दौरान भारी तादात मे किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं को देककर भारी पुलिस बल भी बुलाना पङ गया। किसान यूनियन ने धमकी दी है कि जल्द ही आवारा पशुओं से निजात नही मिली तो वह उग्र आंदोलन करने को मजबूर होंगे।

किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष जीशान खान ने बताया कि इस सरकार मे किसानों का सबसे ज्यादा नुकसान आवारा पशुओं ने किया है। और अभी भी अवारा पशु नुकसान पहुचा रहे हैं। ऐसे मे सरकार नही कई दावे किए थे कि आवारा पशुओं को पकड़कर गौशाला मे रखा जाएगा। लेकिन ऐसा नही हुआ है। ऐसे मे किसान बेहद परेशान हो चुका है। धमकी दी है कि अगर जल्द ही आवारा पशुओं से निजात नही मिली तो किसान यूनियन उग्र आंदोलन करने को मजबूर होगा।

ये भी पढ़ें...किसान यूनियन के नेताओं ने CM के खिलाफ किया ऐसा अनोखा प्रदर्शन

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story