×

किसानों के लिए प्रदेश सरकार ने शुरू की हैं लाभकारी योजनाएं: सूर्य प्रताप शाही

कृषि, सूचनातंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरुकता कार्यक्रम के अन्तर्गत 16 दिवसीय विराट किसान मेले का शुभारम्भ कुम्भ मेला क्षेत्र के सेक्टर-7, सलोरी, गंगेश्वर महादेव मार्ग पर मुख्य अतिथि कृषि मंत्री उ.प्र. सरकार सूर्य प्रताप शाही ने किया। उन्होंने कहा कि भारत की समृद्धि का रास्ता किसानों के खेतों से होकर गुजरता है। इसलिए सरकार किसानों के हित के लिए कृतसंकल्पित है।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 31 Jan 2019 4:49 PM GMT

किसानों के लिए प्रदेश सरकार ने शुरू की हैं लाभकारी योजनाएं: सूर्य प्रताप शाही
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

आशीष पाण्डेय

कुंभ नगर: कृषि, सूचनातंत्र का सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरुकता कार्यक्रम के अन्तर्गत 16 दिवसीय विराट किसान मेले का शुभारम्भ कुम्भ मेला क्षेत्र के सेक्टर-7, सलोरी, गंगेश्वर महादेव मार्ग पर मुख्य अतिथि कृषि मंत्री उ.प्र. सरकार सूर्य प्रताप शाही ने किया। उन्होंने कहा कि भारत की समृद्धि का रास्ता किसानों के खेतों से होकर गुजरता है। इसलिए सरकार किसानों के हित के लिए कृतसंकल्पित है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा लघु एवं सीमांत किसानों का जनपद प्रयागराज में 211711 किसानों का 1386 करोड़ रुपये का ऋण माफ करने के साथ-साथ जनपद में 24 फर्म मशीनरी व 56 कृषि यंत्रों का वितरण किया गया है। जिसमें कृषकों को 80 प्रतिशत तक अनुदान के रूप में छूट भी दी गई है। उन्होंने कहा कि जनपद में 281 सोलर पम्प स्थापित किए गए हैं और अगर किसी भी किसान को सोलर पम्प की आवश्यकता हो तो वह किसान औपचारिकताएं पूर्ण कर सोलर पम्प लगवा सकते हैं।

यह भी पढ़ें.....कुंभ की दिव्यता और भव्यता का बखान कर रहे सांस्कृतिक मंच

कृषि मंत्री शाही ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के हित के लिए यूरिया के दामों में भी कमी की गयी है। 45 किग्रा. यूरिया खाद का कट्टा मात्र 265 रुपये में, 50 किग्रा. यूरिया खाद का कट्टा मात्र 295 रुपये में उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में कृषि विभाग द्वारा 4912 कृषि यंत्र किसानों को दिये गये है। जिसमें किसानों को 80 प्रतिशत का अनुदान भी दिया गया है। उन्होंने कहा कि किसानों को कृषि यंत्रों में अनुदान का प्रतिशत बढ़ाने का फैसला एक ऐतिहासिक फैसला है। जिससे प्रदेश के लाखो किसान लाभान्वित होंगे और बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा गेंहू के बीज के मूल्यो में भी 200 रुपये प्रति क्विंटल की कम करने के साथ-साथ बीज अनुदान 50 प्रतिशत से बढ़ाकर 75 प्रतिशत कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें......राम तो एक हैं लेकिन धर्म संसद दो, ऐसा क्यों?

कृषि मंत्री शाही ने कहा कि पूरे प्रदेश में 6600 सोलर पम्प दिये जा चुके हैं जिनके दामों में भी कमी की गयी है। 3 हार्स पावर का सोलर पम्प जिसकी कीमत 89960 रुपये है। वह अब किसानों को 55366 रुपये में मिलेगा। इसी के साथ-साथ 5 हार्स पावर का सोलर पम्प जिसकी कीमत 252000 है। वह अब किसानों को मात्र 146154 रुपये में मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक जनपद में निराश्रित पशुओं के रहने के लिए गौशाला निर्माण हेतु 1 करोड़ 10 लाख रुपये दिये जा चुके हैं। जिससे निराश्रित पशुओं की समस्या का भी निदान होगा। उन्होंने कहा कि निराश्रित पशु किसानों की फसलों को नष्ट कर देतें हैं तथा सड़कों पर घूमने पर दुर्घटना होने की भी सम्भावना अधिक होती है। इसी दृष्टिकोण से प्रदेश सरकार द्वारा निराश्रित पशुओं के लिए गौशाला निर्माण हेतु कार्य किये जा रहे हैं।

शाही ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी बाजपेयी जी द्वारा ”जय जवान-जय किसान-जय विज्ञान“ का नारा दिया गया था। किसान की कठिन परिश्रम से आज भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी खद्यान्नों का निर्यात किया जाता है। इसलिए भारत को कृषि प्रधान देश कहा जाता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत जनपद प्रयागराज में ज्वार की फसल के लिए 17982 रुपये प्रति हेक्टेयर, अरहर की फसल के लिए 45114 रुपये, धान की फसल के लिए 54542 रुपये, बाजरा की फसल के लिए 12154 रुपये प्रति हेक्टेयर बीमित राशि उपलब्ध है। जिसमें किसान द्वारा ज्वार की फसल के लिए 359.64 रुपये, अरहर की फसल के लिए 902.28 रुपये, धान की फसल के लिए 1090.84 रुपये, बाजरा की फसल के लिए 243.08 रुपये प्रति हेक्टेयर देय होगी।

यह भी पढ़ें.....कुंभ में प्रियंका गांधी बनीं कांग्रेस की दुर्गा, लोकसभा चुनाव में ऐसे करेंगी शत्रुओं का वध

सभी किसान इस योजना के अन्तर्गत स्वैच्छिक रुप से प्रतिभाग लेकर योजना का समान्तर लाभ उठा सकते हैं। इस दौरान कृषि मंत्री जी ने विराट किसान मेला-2019 में लगे विभिन्न विभागों के लगे स्टॉलों का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर विधायक श्री राजमणि कौल, मुख्य विकास अधिकारी श्री सैमुअल पाल एन., संयुक्त निदेशक कृषि आर.बी.सिंह, उपनिदेशक कृषि विनोद कुमार, जिला कृषि अधिकारी डॉ. अश्वनी कुमार सिंह, निदेशक बीज प्राधिकरण एस.आर.पाल, डॉ. नरेन्द्र सिंह, डॉ. आर.पी.सिंह बघेल सहित सभी सम्बन्धित अधिकारी व सम्मानित कृषक मौजूद रहे।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story