Top

फिर टला आशियाना गैंगरेप का फैसला, गौरव को मिला 30 मार्च तक का समय

Admin

AdminBy Admin

Published on 28 March 2016 3:40 PM GMT

फिर टला आशियाना गैंगरेप का फैसला, गौरव को मिला 30 मार्च तक का समय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: आशियाना गैंगरेप केस में फैसले की तारीख एक बार फिर आगे बढ़ गई है। सोमवार को फास्ट ट्रैक कोर्ट इस मामले में अपना फैसला सुनाने वाली थी। लेकिन आरोपी गौरव शुक्ल द्वारा कोर्ट में पेश की गई एक अर्जी की वजह से फैसला फिर टल गया।

12 फरवरी को भी टल गया था फैसला

इससे पहले 12 फरवरी को भी इस मामले में फैसला सुनाया जाना था लेकिन हाईकोर्ट में गौरव के जुवेलाइन संबधी रिवीजन विचाराधीन होने के कारण फैसला टल गया था। इसके बाद हाईकोर्ट ने 18 मार्च को रिवीजन खारिज कर दिया था जिसके चलते सोमवार को फैसला आने की उम्मीद थी।

गौरव ने फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश की अर्जी

सोमवार को कोर्ट अपना फैसला सुनाती इससे पहले गौरव की ओर से एक अर्जी पेश कर कहा गया कि वह हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दाखिल करने जा रहा है। इसके चलते न्याय हित में उसे थेाड़ा समय देने की कृपा की जाए।

कोर्ट ने आरोपी को 30 मार्च तक का दिया समय

जज अनिल कुमार शुक्ला ने अर्जी पर विचार करने के बाद न्याय हित में 30 मार्च तक का समय प्रदान करते हुए गौरव को ताकीद किया कि उक्त तारीख तक वह एसएलपी का ब्यौरा कोर्ट में दाखिल करें।

विदित हो कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में गौरव के बाबत विचारण की कार्यवाही पूरी हो चुकी है, लेकिन फैसला किसी न किसी कारण टलता चला जा रहा है।

Admin

Admin

Next Story